सुप्रभात: परछाई हमेशा काली होती है

मनुष्य कितना भी गोरा क्यों ना होपरंतु उसकी परछाई सदैव काली होती है…“मैं श्रेष्ठ हूँ” यह आत्मविश्वास है!!लेकिन “सिर्फ मैं ही श्रेष्ठ हूँ” यह अहंकार है…”“इच्छा पूरी नहीं होती तो …

Read More

सुप्रभात: परछाई हमेशा काली होती है

मनुष्य कितना भी गोरा क्यों ना होपरंतु उसकी परछाई सदैव काली होती है…“मैं श्रेष्ठ हूँ” यह आत्मविश्वास है!!लेकिन “सिर्फ मैं ही श्रेष्ठ हूँ” यह अहंकार है…”“इच्छा पूरी नहीं होती तो …

Read More

सुप्रभात: परछाई हमेशा काली होती है

मनुष्य कितना भी गोरा क्यों ना होपरंतु उसकी परछाई सदैव काली होती है…“मैं श्रेष्ठ हूँ” यह आत्मविश्वास है!!लेकिन “सिर्फ मैं ही श्रेष्ठ हूँ” यह अहंकार है…”“इच्छा पूरी नहीं होती तो …

Read More