धान से एथेनॉल बनाने के छत्तीसगढ़ के ड्रीम प्रोजेक्ट को केंद्र की हरी झंडी

छत्तीसगढ़ के मुख्‍यमंत्री भूपेश बघेल के धान से एथेनॉल बनाने के ड्रीम प्रोजेक्ट को केंद्र सरकार ने हरी झंडी दे दी है। केंद्र ने इसे लाभकारी भी बताया है। केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने भाजपा की प्रदेश कार्यसमिति की बैठक में यह घोषणा की है कि धान से एथेनॉल फ्यूल बनाएंगे। इसमें 10 हजार करोड़ का निवेश होगा। इसका फायदा छत्तीसगढ़ को मिलेगा। उधर,  मुख्‍यमंत्री भूपेश ने केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री की इस घोषणा का स्वागत किया है।

छत्तीसगढ़ में बड़े पैमाने पर धान का उत्पादन होता है। धान से चावल के अतिरिक्त अन्य लाभकारी  प्रोडक्ट तैयार करने के उद्देश्य से ही मुख्‍यमंत्री का फोकस बायो एथेनॉल पर था। उन्होंने राज्य की नई औद्योगिक नीति में इसे शामिल करते हुए उद्यमियों को संयत्र लगाने के लिए कई रियायतों का प्रावधान भी किया है। छत्तीसगढ़ सरकार ने राज्य में धान से एथेनॉल बनाने के लिए चार निजी कंपनियों से एमओयू भी किया है।

मुख्‍यमंत्री भूपेश बघेल धान से एथेनॉल उत्पादन के संबंध में पीएम नरेंद्र मोदी, केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री, केंद्रीय कृषि मंत्रालय और नीति आयोग को पत्र लिखकर बायो एथेनॉल उत्पादन की अनुमति के लिए लगातार प्रयासरत थे।

Share The News
Read Also  जान जोखिम में डालकर ऐसे सफर कर रहे हैं श्रमिक

Get latest news on Whatsapp or Telegram.