मानवता एक बार फिर हुई शर्मसार, सामूहिक बलात्कार के आरोपियों को केशकाल पुलिस ने सिलतरा से किया गिरफ्तार


केशकाल। देश भर में इन दिनों बलात्कार के मामले लगातार सामने आ रहे हैं कुछ दिनों पहले ही उत्तरप्रदेश के हाथरस में हुए बलात्कार का मामला अभी शांत नही पड़ा है कि कोंडागांव जिले के केशकाल में युवती को लिफ्ट देने के नाम पर ट्रक में सवार युवकों द्वारा सामूहिक रूप से बलात्कार करने का मामला प्रकाश में आया है। जिसमें आरोपियों को गिरफ्तार कर न्यायिक रिमांड पर भेजा गया है वहीं पीडि़ता को सखी केंद्र कोंडागांव में रखा गया है।


प्राप्त जानकारी के अनुसार उक्त पीडि़त युवती बनियागांव से 1अक्टूबर को कोंडागांव जाने के लिए सड़क किनारे खड़ी थी। तभी ट्रक क्रमांक सीजी 18 एच 0735 ने रोका और कोंडागांव छोड़ दूंगा कहकर ट्रक में बैठा लिया, लेकिन कोंडागांव पहुंचने के बाद भी ट्रक ड्राइवर ने गाड़ी को नहीं रोका और सीधा केशकाल घाट तक ले आया। जहां ट्रक में सवार तीनों युवकों, चालक बसन्त गुप्ता पिता रामचन्द गुप्ता उम्र 24 वर्ष, संदीप गुप्ता, पिता लल्लू राम उम्र 32 वर्ष व संजय दुर्गम पिता महेश दुर्गम उम्र 20 वर्षर्
जो कि तीनों किरन्दुल के निवासी हैं। इन लोगों ने युवती के साथ लगातार अनाचार किया और फिर अपने साथ सिलतरा (धरसींवा) लेकर चले गए।


आरोपियों के कब्जे से पीछा छुड़ा कर पीडि़त युवती ने स्थानीय लोगों को बताई आपबीती


सिलतरा में ट्रक सवार युवक लोहगिट्टी को अनलोड कर रहे थे, तभी किसी प्रकार से ट्रक से भाग निकल युवती ने पास के होटल में जा कर अन्य लोगों को हुई घटना के बारे में जानकारी दी। तभी स्थानीय लोगों ने तत्काल 112 में काल कर पुलिस को शिकायत किया गया तथा तुंरत पुलिस ने मौके पर पहुंच कर पीडि़ता के बयान पर तीनों आरोपियों को गिरफ्तार किया गया तथा घटनास्थल केशकाल होने के कारण सिलतरा पुलिस ने जीरो में अपराध पंजीबद्ध कर केशकाल थाना प्रभारी रामप्रसाद सिन्हा को सूचना दिया गया।

Read Also  लॉकडाउन में हवाई यात्रा पर सवाल, 7 उड़ानों में मिले 17 कोरोना पॉज़िटिव केस


आरोपियों को गिरफ्तार कर न्यायिक रिमांड पर भेजा गया
केशकाल थाना के उप निरीक्षक आरपी सिन्हा ने बताया कि मामला गंभीर होने के चलते कोंडागांव एसपी सिद्धार्थ तिवारी के आदेशनुसार तत्काल पुलिस की एक टीम गठित कर 3 अक्टूबर के सुबह सिलतरा के लिए रवाना किया गया वहां से आरोपियों और पीडि़ता को केशकाल लाया गया। सामूहिक रूप से बलात्कार करने को लेकर उक्त आरोपियों के ऊपर धारा 363 ,376 (घ) भादवि. कायम कर न्यायालय में पेश कर न्यायिक रिमांड में भेजा गया है तथा पीडि़ता को सखी केंद्र कोंडागांव भेजा गया।

Share The News

Get latest news on Whatsapp or Telegram.

   

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of