कर्जधारकों को EMI भुगतान पर 3 महीने की मिली अतिरिक्त मोहलत

भारतीय रिजर्व बैंक ने सभी तरह के टर्म लोन और वर्किंग कैपिटल लोन पर मोराटोरियम की अवधि तीन महीनों के लिए और बढ़ा दी है। अब जून से लेकर अगस्त तक पर्सनल लोन, होम लोन, ऑटो लोन और क्रेडिट कार्ड के बिल आदि पर 3 और महीनों के लिए राहत मिल सकेगी। बता दें कि इससे पहले 27 मार्च को आरबीआई ने मार्च से लेकर मई महीने तक की किस्तों पर यह राहत दी थी। गवर्नर शक्तिकांत दास ने कहा कि लॉकडाउन की अवधि में इजाफा हुआ है, जिससे लोगों की आय लगातार प्रभावित हुई है। ऐसे में कर्जधारकों को राहत देने के लिए ईएमआई में छूट की अवधि को अब 31 अगस्त, 2020 तक के लिए बढ़ाने का फैसला लिया गया है।

गवर्नर शक्तिकांत दास ने कहा कि इस साल जीडीपी ग्रोथ निगेटिव कैटिगरी में रह सकती है। हालांकि दूसरे हाफ में कुछ तेजी देखने को मिल सकती है। आरबीआई के गवर्नर ने कहा कि कोरोना के संकट के दौरान महंगाई में भी इजाफा देखने को मिला है। उन्होंने कहा कि दाल की कीमतें 200 रुपए प्रति किलो तक पहुंची है, जो चिंता की बात है। शक्तिकांत दास ने कोरोना संकट का ब्योरा देते हुए कहा कि देश के 6 बड़े औद्योगिक राज्यों में बड़ी गिरावट देखने को मिली है।

बिजली और पेट्रोलियम की मांग में बड़ी कमी देखने को मिली है। मॉनसून के बेहतर रहने की भविष्यवाणी से उत्साहजनक संकेत मिले हैं। भारत को मैन्युफैक्चरिंग एक्सपोर्ट में 30 फीसदी की सबसे बड़ी गिरावट का सामना करना पड़ा है। 15,000 करोड़ रुपये की राहत सिडबी को दी जाएगी कि वह लोन पर ग्राहकों को राहत दे सके। स्मॉल इंडस्ट्रीज के हित में काम करने वाली संस्था को यह बड़ी मदद दी गई है ताकि वह कर्जधारकों को राहत दे सके।

Share The News
Read Also  शेयर बाजारः सेंसेक्स 92 अंक गिरकर 31,000 के ऊपर, निफ्टी ने होल्ड किया 9100 का स्तर

Get latest news on Whatsapp or Telegram.

   

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of