छत्तीसगढ़ से गुजरते प्रवरियों की भीड़ को मिली बड़ी राहत

छत्तीसगढ़ से होकर गुजरने वाले अन्य राज्यों के श्रमिकों की सहूलियत और सहायता में जुटी छत्तीसगढ़ सरकार

छत्तीसगढ़ राज्य और उसकी सीमाओं पर श्रमिकों के चाय, नाश्ता, भोजन व परिवहन का निःशुल्क प्रबंध

दहकती सड़कों पर नंगे पांवों को चरण पादुका का मरहम

अपने और बेगाने का फर्क नहीं, सिर्फ इंसानियत का फर्ज निभाने में जुटे लोग

रायपुर। कोरोना संक्रमण और लाॅकडाउन के इस दौर में जब अपनों ने मुंह फेर लिया। मालिकों और ठेकेदारों ने पल्ला झाड़ लिया। ऐसी स्थिति में देश के विभिन्न शहरों और औद्योगिक क्षेत्रों की कम्पनियों, फेक्टरियों, मिलों, कल कारखानों, ऊंची-ऊंची अट्टालिकाओं के निर्माण में दिन रात पसीना बहाने वालों श्रमिक बेबस होकर रोते बिलखते अपने-अपने गांवों का सफर तय करने पैदल ही सड़कों पर निकल पड़े। हजार-हजार ढेड-ढेड हजार किलोमीटर की दूरी को श्रमिकों ने पांव-पांव नापने लगे। देश का शायद ही ऐसा कोई कोना बचा हो जहां के हाईवे और सड़कों पर श्रमिकों का रेला न दिखाई देता हो। बेबस मजदूर अपनी छोटी-मोटी गृहस्थी की गठरी सर पर उठाए, नन्हे-मुन्हे, छोटे बच्चों को कांधे पर लादे अपनी बेबसी की दास्तां खुद बयां कर रहे हैं। छत्तीसगढ़ राज्य के सीमाओं पर पहुंचने वाले सभी श्रमिकों के चाय, नाश्ते, भोजन की सुविधा, स्वास्थ्य परीक्षण एवं परिवहन निःशुल्क व्यवस्था ने श्रमिकों के दुख दर्द पर काफी हद तक मरहम लगाने का काम किया हैै। इस बेबसी के आलम में श्रमिकों को लेकर छत्तीसगढ़ सरकार की संवेदनशीलता के सभी कायल है।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के निर्देश पर राज्य के सभी सीमाओं पर पहुंचने वाले प्रवासी श्रमिकों को, चाहें वो किसी भी राज्य के हो, उन्हें छत्तीसगढ़ का मेहमान मान कर शासन-प्रशासन के लोग उनके सेवा-सत्कार में शिद्दत से जुटे हुए हैं। मुख्यमंत्री की अपील पर श्रमिकों की सहायता में राज्य के स्वयं-सेवी, समाज सेवी संस्थाओं, उद्योग और व्यापारिक संगठनों के लोग भी बराबर की साझेदारी निभा रहे हैं। बेबस प्रवासी श्रमिकों को सहूलियत और सहायता पहुंचाने के छत्तीसगढ़ सरकार को इंतजाम को देखकर बरबस इकबाल की यह नज्म याद आती है- हो मेरा काम गरीबों की हिमायत करना, दर्द मंदों और जईफों से मोहब्बत करना। छत्तीसगढ़ राज्य के सभी बार्डर इलाके के चेकपोस्ट पर देश के अन्य राज्यों से कष्ट दायक सफर तय कर पहुंचने वाले श्रमिकों के लिए छत्तीसगढ़ शासन ने न सिर्फ भोजन एवं पेयजल की व्यवस्था की है, बल्कि निःशुल्क बस की व्यवस्था कर श्रमिकों को राज्य की सीमा तक सकुशल पहुंचाने प्रबंध किया है।

छत्तीसगढ़ राज्य का बाघनदी बार्डर जो राजनांदगांव और महाराष्ट्र राज्य की सीमा पर है। महाराष्ट्र, आंघ्र प्रदेश, तेलंगाना, मध्यप्रदेश, राजस्थान आदि राज्यों के विभिन्न जिलों से यहां पहुंचने वाले प्रवासी श्रमिकों को सकुशल उनके राज्य की सीमा तक पहुंचाने के लिए 100 बसों की व्यवस्था छत्तीसगढ़ शासन ने सुनिश्चित की है। बाघनदी बार्डर पर पहुंचने वाले अधिकांश प्रवासी श्रमिक झारखण्ड, बिहार, उत्तर प्रदेश, ओड़िशा, पश्चिम बंगाल के है, जो छत्तीसगढ़ होते हुए अपने गृह राज्य जा रहे हैं। प्रदेश सरकार ने प्रवासी श्रमिकों की मदद में कोई कोर-कसर बाकी नहीं रख रही है। तपती दोपहर और दहकती सड़क पर नंगे पांव चल कर पहुंचने वाले प्रवासी श्रमिकों, महिलाओं और बच्चों का स्वागत सत्कार उन्हें चाय, नाश्ता देकर और चरण पादुका पहनाकर किया जा रहा है। कमोवेश यहीं व्यवस्था राज्य के सभी चेकपोस्टों पर शासन-प्रशासन ने सुनिश्चित की है। राज्य के रेंगाखार, चिल्फी, कोरिया, सूरजपुर, जशपुर, अंबिकापुर, रामानुजगंज आदि बोर्डर पर पहुंचने वाले छत्तीसगढ़ के श्रमिकों को उनके गृह जिला तथा अन्य राज्यों के प्रवासी श्रमिकों को भी राज्य की सीमा तक सकुशल पहुंचाने की निःशुल्क व्यवस्था शासन-प्रशासन ने की है। राजधानी रायपुर में स्थित टाटीबंध का इलाका प्रवासी श्रमिकों का संगम बना हुआ है।

यहां रोजाना हजारों की तादाद में अन्य राज्यों के प्रवासी श्रमिक महाराष्ट्र, तेलंगाना, आन्ध्र प्रदेश, मध्य प्रदेश से दो-तीन दिनों का कष्टकारी सफर दो-तीन चरणों में जैसे-तैसे पूरा कर पहुंचने वालों के लिए छत्तीसगढ़ सरकार ने उनके राज्यों की सीमा तक पहुंचाने के लिए बड़ी संख्या में बसों की व्यवस्था की है। रूट भी तय किए गए हैं। जिसके जरिए श्रमिकों को निःशुल्क उनके राज्यों के सीमा तक भिजवाया जा रहा है। छत्तीसगढ़ शासन के अधिकारी सीमावर्ती राज्यों के अधिकारियों से समन्वय बनाकर इस चुनौती पूर्ण काम को बेहद संजीदगी के साथ पूरा करने में जुटे हैं।

राज्य के सभी चेकपोस्ट के साथ-साथ रायपुर के टाटीबंध पहुंचने वाले प्रवासी श्रमिकों के स्वास्थ्य की जांच पड़ताल के लिए स्वास्थ्य विभाग द्वारा स्टाॅल लगाया गया है। टाटीबंध में जिला प्रशासन रायपुर की ओर से स्मार्ट सिटी के बैनर तले श्रमिकों को भोजन, नास्ता एवं पेयजल का निःशुल्क प्रबंध किया गया है। प्रवासी श्रमिकों की मदद में रायपुर के कई स्वयंसेवी, समाजसेवी संगठन के पदाधिकारी भी जुटे हुए हैं। टाटीबंध गुरूद्वारा प्रबंधन कमेटी द्वारा प्रवासी श्रमिकों के लिए भोजन का प्रबंध किया गया है। समर्थ चेरिटेबल ट्रस्ट, व्ही द पीपुल, नुकड्ड द कैफे, मदर्स केयर वुमेन्स एण्ड चिल्ड्रन वेलफेयर सोसायटी सहित अनेक संगठन के कार्यकर्ता भी प्रवासी श्रमिकों की सेवा में जुटे हैं। टाटीबंध में पहुंचने वाले श्रमिकों को उनके राज्य एवं गृह जिला भेजने के लिए शासन-प्रशासन द्वारा परिवहन संघ के सहयोग से सैकड़ों की संख्या में बसों की व्यवस्था की गई है, जो छत्तीसगढ़ के श्रमिकों को लगातार उनके गृह जिला तथा अन्य राज्यों के श्रमिकों को राज्य की सीमा तक पहुंचा रही है। छत्तीसगढ़ सरकार की इस व्यवस्था ने सफर कर रहे प्रवासी श्रमिकों को काफी हदतक राहत मिल रही है।

Read Also  छत्तीसगढ़ ने बनाया चैम्पियन, दिल्ली को हराया


मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नेतृत्व वाली छत्तीसगढ़ सरकार ने एक अहम फैसला यह भी लिया है कि राज्य के ऐसे प्रवासी श्रमिक परिवार, जिनके पास राशन कार्ड नहीं है। उन श्रमिक परिवारों मई और जून माह का प्रति सदस्य की मान से पांच किलो खाद्यान्न निःशुल्क दिया जाएगा। छत्तीसगढ़ सरकार अन्य राज्यों में फंसे छत्तीसगढ़ की श्रमिकों की वापसी के लिए, जहां ट्रेनों और बसों की निःशुल्क व्यवस्था की है, वहीं राज्य के अन्य जिलों में लाॅकडाउन के वजह से फंसे छत्तीसगढ़ के श्रमिकों को उनके गृह ग्राम तक सकुशल पहुंचा जा रहा है।

Share The News




CLICK BELOW to get latest news on Whatsapp or Telegram.

 


IMG 20240522 WA0012

40 साल के प्रेमी ने छुपाई शादी की बात, आहत होकर 19 साल की प्रेमिका ने कर ली आत्महत्या

By Sub Editor / May 22, 2024 / 0 Comments
प्रेमी के दगाबाजी से परेशान होकर एक बीएससी की छात्रा ने बीती रात अपने कमरे में फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली है। घटना की सूचना पर पुलिस ने मामले की विवेचना शुरू कर दी है।   जानकारी के अनुसार जूटमिल...
IMG 20240525 WA0005

स्वामी आत्‍मानंद स्‍कूल के संविदा कर्मचारियों को लेकर DPI ने जारी किया यह महत्वपूर्ण आदेश…पढ़े क्या लिखा है आदेश में…

By Sub Editor / May 25, 2024 / 0 Comments
  स्‍वामी आत्‍मानंद स्‍कूलों में संविदा कार्यरत कर्मचारियों को जल्‍द ही वेतन मिल जाएगा। लोक शिक्षण संचालनालय ने इस संबंध में सभी जिला शिक्षा अधिकारियों और स्‍वामी आत्‍मानंद स्‍कूल के सचिव को पत्र जारी किया है। इसमें कहा गया है...
IMG 20240524 WA0011

एक्टर फिरोज खान का निधन, हार्ट अटैक ने ली जान

By Sub Editor / May 24, 2024 / 0 Comments
  'भाबीजी घर पर हैं' एक्टर फिरोज खान का निधन हो गया। अमिताभ बच्चन की मिमिक्री और एक्टिंग कर मशहूर हुए फिरोज खान की हार्ट अटैक से मौत हुई। 23 मई की सुबह बदायूं में उन्होंने आखिरी सांस ली।  ...
camera

गाजियाबाद में मंदिर के चेंजिंग रूम में मिला CCTV:महंत के मोबाइल पर थी इसकी LIVE फीड

By Rakesh Soni / May 25, 2024 / 0 Comments
गाजियाबाद- यूपी के जिला गाजियाबाद में हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है। शनि मंदिर के बाहर बने चेंजिंग रूम के ऊपर CCTV कैमरा लगा हुआ मिला है। इस कैमरे की लाइव फीड मंदिर महंत मुकेश गोस्वामी के मोबाइल...
IMG 20240521 WA0037

दिल दहला देने वाली वारदात : छत्तीसगढ़ में बीवी और बेटी की निर्मम हत्या…पति ने इस तरह दिया वारदात को अंजाम

By Sub Editor / May 21, 2024 / 0 Comments
  राजधानी से लगे खरोरा के घिवरा गांव में दिल दहला देने वाली वारदात सामने आई है। गांव में रहने वाले एक पति ने अपनी पत्नी और बेटी की हत्या कर दी जिससे गांव में दहशत का माहौल है। पुलिस...
hatya

भाभी ने प्रेमी के साथ मिलकर देवर को मार डाला, 78 दिन तक सोशल मीडिया पर जिंदा रखा

By Rakesh Soni / May 23, 2024 / 0 Comments
नई दिल्ली-द्वारका जिले के बाबा हरिदास नगर इलाके में युवक रवि उर्फ सोनू (31) की अगवा करके हत्या मामले की गुत्थी को पुलिस ने 78 दिन बाद सुलझा लिया है। हत्या की साजिश किसी और ने नहीं, बल्कि उसकी भाभी...
IMG 20240521 WA0032

इन्हें बनाई गईं वन विभाग की अपर मुख्य सचिव…आदेश जारी..!!

By Sub Editor / May 21, 2024 / 0 Comments
  द्रीय प्रतिनियुक्ति से वापस छत्तीसगढ़ लौटीं ऋचा शर्मा को अपर मुख्य सचिव, वन एवं जलवायु परिवर्तन विभाग की जिम्मेदारी दी गई है. जिसका आदेश सामान्य प्रशासन विभाग ने आज जारी कर दिया हैवही ऋचा शर्मा के कार्यभार ग्रहण करने...
IMG 20240526 WA0021

छत्तीसगढ़ में शुरू हुआ स्मार्ट मीटर लगाने का काम, मोबाइल की तरह करने होंगे रिचार्ज

By Sub Editor / May 26, 2024 / 0 Comments
  छत्तीसगढ़ विद्युत वितरण कम्पनी ने स्मार्ट मीटर लगवाने के काम शुरू करा दिया है। शुक्रवार को तोरवा विधुत कालोनी में विद्युत कर्मी के मकान में पहला मीटर लगाया गया।   विधुत कम्पनी ने राजधानी रायपुर को छोड़ पूरे प्रदेश...
IMG 20240521 WA0007

प्रदेश में खुलेंगे 14 नए बीएड कॉलेज, मिली मंजूरी, नए कॉलेजों में इतने सालों के पाठ्यक्रमों का ही होगा संचालन

By Sub Editor / May 21, 2024 / 0 Comments
  प्रदेश के विद्यार्थियों के लिए अच्छी खबर है। प्रदेश में 14 नए बीएड महाविद्यालय खोले जाएंगे। आपको बता दें इन नए बीएड महाविद्यालयों में 4 वर्षीय पाठ्यक्रमों का ही संचालन होगा। राष्ट्रीय शिक्षा नीति के अनुसार दो वर्षीय बीएड...
IMG 20240524 WA0007

CG WEATHER UPDATE : कल से नौतपा शुरू…आज प्रदेश के कुछ क्षेत्रों में बारिश के साथ अंधड़ चलने की संभावना

By Sub Editor / May 24, 2024 / 0 Comments
  नौतपा के 9 दिनों में सबसे भीषण गर्मी पड़ती है। इस बार सूर्य को गुरु का साथ मिलने से नौतपा और भी झुलसाने वाला होगा। नौतपा इस बार 25 मई से शुरू होगा और 2 जून को समाप्‍त होगा।...

Leave a Comment