छत्तीसगढ़ में औषधीय पौधों के संरक्षण व संवर्धन सहित कृषिकरण को बढ़ावा देते हुए इसे हर्बल राज्य के रूप में दी जाए पहचान: वन मंत्री

  • अकबर ने छत्तीसगढ़ आदिवासी,स्थानीय स्वास्थ्य परंपरा एवं औषधि पादप बोर्ड के कार्यों की समीक्षा की


रायपुर। छत्तीसगढ़ में औषधीय पौधों के संरक्षण व संवर्धन सहित इसके कृषिकरण को बढ़ावा देते हुए इसे शीघ्र हर्बल राज्य के रूप में पहचान दी जानी है। वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्री मोहम्मद अकबर ने आज राजधानी के शंकर नगर स्थित निवास कार्यालय में आयोजित छत्तीसगढ़ आदिवासी, स्थानीय स्वास्थ्य परंपरा एवं औषधि पादप बोर्ड की समीक्षा बैठक में उक्ताशय के निर्देश दिए। बैठक में प्रमुख सचिव वन मनोज पिंगुआ, प्रधान मुख्य वन संरक्षक एवं वन बल प्रमुख राकेश चतुर्वेदी सहित विभाग के समस्त उच्चाधिकारी उपस्थित थे।

बैठक में औषधीय पौधों के बाजार सूचना आधार पर प्रजातियों का चयन, विपणन, नर्सरी विकास, क्लस्टर निर्माण तथा औषधीय पौधों का कृषिकरण और वनों से संग्रहण व संरक्षण आदि बिन्दुओं पर विस्तार से चर्चा हुई। इस दौरान वन मंत्री श्री अकबर ने राज्य में विनाश विदोहन पद्धति से औषधीय पौधों का कृषिकरण और वनों से इसका संग्रहण व संवर्धन सहित स्थानीय समुदाय तथा वनवासियों को जोड़कर उन्हें रोजगार तथा आय के साधन उपलब्ध कराने पर विशेष जोर दिया। बैठक में इसके कृषि गतिविधि होने के कारण अब औषधीय पौधों पर जीरो प्रतिशत ब्याज पर ऋण सुविधा उपलब्ध कराने के संबंध में भी आवश्यक चर्चा हुई।

बैठक में जानकारी दी गई कि छत्तीसगढ़ आदिवासी, स्थानीय स्वास्थ्य परंपरा एवं औषधि पादप बोर्ड के अंतर्गत संचालित कार्यक्रमों का मुख्य उद्देश्य राज्य में वनों के अंदर औषधीय पौधों का संरक्षण, संवर्धन, विपणन व स्थानीय समुदाय को आर्थिक लाभ पहुंचाना और वनों के बाहर औषधीय पौधों का कृषिकरण, मांग एवं आपूर्ति का आकलन एवं कृषकों के लिए आय के स्रोत उपलब्ध कराना है। साथ ही परंपरागत ज्ञान का संरक्षण के अंतर्गत राज्य में पारंपरिक स्वास्थ पद्धति के ज्ञान का प्रचार-प्रसार, वैद्यों की पहचान एवं क्षमता विकास, परंपरागत ज्ञान का अभिलेखीकरण, परंपरागत उपचारकर्ताओं के ज्ञान को पेंटेंट कराना और उपचार केन्द्रों की स्थापना भी है। इसके अलावा औषधीय पौधों के विपणन के लिए प्रसंस्करण केन्द्र की स्थापना, उत्पादों के निर्यात एवं योजना बनाना, अनुसंधान, सर्वेक्षण तथा नीति बनाना आदि कार्य शामिल हैं।

बैठक में बोर्ड के भविष्य की योजनाएं के तहत बताया गया कि राज्य के कुल वन क्षेत्रों में से लगभग एक प्रतिशत अर्थात 60 हजार हेक्टेयर रकबा में औषधीय पौधों का सघन रोपण भी किया जाना है। इसके अलावा 10 हजार एकड़ निजी भूमि पर कृषकों द्वारा औषधीय पौधों का कृषिकरण किए जाने की योजना है। इस अवसर पर प्रधान मुख्य वन संरक्षक एवं प्रबंध संचालक राज्य लघु वनोपज संजय शुक्ला, प्रधान मुख्य वन संरक्षक (वन्यप्राणी) पी.व्ही. नरसिंग राव, प्रधान मुख्य वन संरक्षक वन अनुसंधान एवं विस्तार अतुल शुक्ला, छत्तीसगढ़ आदिवासी, स्थानीय स्वास्थ्य परंपरा एवं औषधि पादप बोर्ड मुख्य कार्यपालन अधिकारी जे.ए.सी.एस. राव तथा मुख्य कार्यपालन अधिकारी कैम्पा व्ही. श्रीनिवास राव सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

Share The News

CLICK BELOW to get latest news on Whatsapp or Telegram.

 





कोविड से निपटने स्वास्थ्य विभाग करेगा रायपुर में 202 अस्थायी पदों पर भर्तियां, वॉक-इन-इंटरव्यू 18 जनवरी से

By Reporter 5 / January 15, 2022 / 0 Comments
रायपुर। स्वास्थ्य विभाग, रायपुर द्वारा 202 अस्थायी पदों पर भर्तियां निकाली गई हैं। इनमें डॉक्टर, मेडिकल ऑफिसर, डेंटिस्ट, हॉस्पिटल मैनेजर, स्टोर इंचार्ज कम फर्मासिस्ट, नर्सिंग स्टॉफ, हाउस कीपिंग सुपरवाइजर, ऑक्सीजन टेक्नीशियन, लैब टेक्नीशियन, टेलीफोन आपरेटर, सिक्यूरिटी गार्ड सहित अन्य पद...

कुम्हारी में कोविड जागरुकता अभियान में मास्क बांटे

By Reporter 5 / January 14, 2022 / 0 Comments
कुम्हारी। सेवा संकल्प समिति कुम्हारी द्वारा आज रविवार को 5000 नग मास्क वितरण किया गया साथ ही लोगों को बढ़ते हुए कोरोना वायरस से बचने के लिए सभी को जागरूक किया गया। इस कार्यक्रम में निश्चय वाजपेयी,महेश सोनकर,गिरीश सोनी,हरिदास वैष्णव,प्रणव...

नवीन तकनीक से 12 सौ किलोग्राम प्रति हेक्टेयर बढ़ा मत्स्य उत्पादन

By Reporter 5 / January 13, 2022 / 0 Comments
दुर्ग। मत्स्य पालन वर्तमान में एक लोकप्रिय व्यवसाय के रूप में उभर रहा है और जिले की अर्थव्यवस्था को सुदृढ़ बना रहा है। आज जिले में मत्स्य बीज के लिए 10 हैचरी स्थल जिससे अन्य राज्य जैसे पश्चिम बंगाल जिसपर...

प्रधानमंत्री किसान योजना में खत्म कर दी गई यह खास सुविधा

By Reporter 1 / January 14, 2022 / 0 Comments
प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना 2022 में मोदी सरकार बड़ा बदलाव किया है। इसका सीधा असर 12 करोड़ 44 लाख से अधिक किसानों पर पडेगा। सरकार ने यह बदलाव ऐसे समय में किया है, जब उत्तर प्रदेश, पंजाब समेत पांच...

Death News of Collor Rani : उन्तीस बच्चों की मां, पेंच की पहचान, मोस्ट फोटोजेनिक शेरनी नही रही

By Reporter 5 / January 17, 2022 / 0 Comments
सिवनी। मध्य प्रदेश में स्थित पेंच टाइगर रिजर्व की रानी कही जाने वाली कॉलर बाघिन की मौत हो गई है। रविवार को टाइगर रिजर्व पार्क में ही बाघिन का अंतिम संस्कार किया गया है। कॉलर बाघिन 23 बच्चों की मां...

कोरोना बन गया ‘वरदान: देश के कुबेरों की संपत्ति हो गई दोगुनी

By Rakesh Soni / January 17, 2022 / 0 Comments
10 रईसों के पास इतना पैसा कि सभी बच्चों को 25 साल तक शिक्षा दिला सकें नई दिल्ली। कोरोना महामारी देश के 84 फीसदी परिवारों के लिए मुसीबत बनकर आई तो धन कुबेरों के लिए वरदान। महामारी के दौरान देश...

सरकार का अलर्ट : फोन पर बात करते समय मर्ज न करें कोई Call

By Reporter 1 / January 14, 2022 / 0 Comments
मोबाइल फोन पर किसी अंजान व्यक्ति से बात करते समय कॉल को मर्ज न करें, क्‍योंकि ऐसा करने पर आपका इंटरमीडिया अकाउंट हैक हो सकता है। इसके माध्‍यम में साइबर अपराधी आपके बैंक खाते तक पहुंच सकते हैं। साइबर धोखाधड़ी...

आज का राशिफल

By Reporter 1 / January 15, 2022 / 0 Comments
मेष राशि : आज का दिन आपके लिए मध्यम रूप से फलदायक रहेगा। आज आपको हर मामले में जीवनसाथी का सहयोग व सानिध्य में भरपूर मात्रा में मिलता दिख रहा है। आज आपके कार्यक्षेत्र में विरोधी भी आपस में लड़कर...

Ekhabri विशेष: शिशु ज्यादा सुरक्षित कोविड पॉजिटिव गर्भवती मां के पेट में है: डॉ.रश्मि भुरे

By Reporter 5 / January 14, 2022 / 0 Comments
प्रसव के दौरान कोविड प्रोटोकाल का पालन बेहद जरूरी दुर्ग। यह कोई जरूरी नहीं कि कोविड पॉजिटिव गर्भवती के शिशु को भी कोविड होगा। खासकर जब तक वह पेट में है। उस दौरान वह कोरोना संक्रमण से ज्यादा सुरक्षित है।...

कही-सुनी (16-JAN-22): मंच के पीछे की कहानियाँ- राजनीति, प्रशासन और राजनीतिक दलों की

By Reporter 5 / January 16, 2022 / 0 Comments
रवि भोई ( लेखक,पत्रिका समवेत सृजन के प्रबंध संपादक और स्वतंत्र पत्रकार हैं।) टारगेट में मंत्री प्रेमसाय सिंहलगता है छत्तीसगढ़ के स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ प्रेमसाय सिंह टेकाम का विवादों से नाता जुड़ गया है। भूपेश सरकार में मंत्री बनते...