जितेंद्र शुक्ला ने कहा- 1 नवंबर से संविलियन की शुरू करें तैयारी


रायपुर। शिक्षाकर्मियों के संविलियन को लेकर राज्य सरकार के निर्देश पर शिक्षा विभाग की कार्रवाई शुरू हो गयी है। डीपीआई जितेंद्र शुक्ला ने सभी डीईओ को निर्देशित किया है कि वो संविलियन के मद्देनजर विभागीय स्तर पर तैयारियां पूरी कर लें, ताकि मुख्यमंत्री के निर्देश के मुताबिक एक नवंबर से संविलियन की प्रक्रिया पूर्ण कर ली जाये। दरअसल 25 जुलाई को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट की बैठक में इस बात का निर्णय लिया गया था कि 2 साल से अधिक सेवा पूर्ण कर चुके शिक्षाकर्मियों का शिक्षा विभाग में संविलियन 1 नवंबर से किया जायेगा। इस निर्देश के बाद राज्य स्तर पर इसकी तैयारी शुरू हो गयी थी। उसी कड़ी में अब जिला स्तर पर संविलियन के मद्देनजर तैयारी करने के निर्देश सभी जिला शिक्षा अधिकारी को डीपीआई जितेंद्र शुक्ला ने जारी किया है। डीपीआई जितेंद्र शुक्ला ने कहा है कि मैंने सभी सभी डीईओ को संविलियन के मद्देनजर निर्देश जारी किया है, कि वो अपने स्तर से तैयारी पूरी रखें, ताकि मुख्यमंत्री की मंशा के अनुरूप 1 नवंबर से शिक्षाकर्मियों का शिक्षा विभाग में संविलियन किया जा सके। इसे लेकर विस्तृत समय सारिणी पृथक से जारी की जा रही है, उस समय सारिणी के मुताबिक संविलियन की प्रक्रिया नियत तिथि तक पूर्ण करा ली जायेगी। आपको बता दें कि कांग्रेस पार्टी ने अपने घोषणा पत्र में इस बात का वादा किया था कि 2 साल या उससे अधिक सेवा पूरी कर चुके शिक्षाकर्मियों का संविलियन किया जायेगा। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने अपने इस वादे का जिक्र बजट भाषण में भी किया था। हालांकि उसके बाद कोरोना काल शुरू हो गया, जिसकी वजह से लगातार उसमें देरी आई। 25 जुलाई को कैबिनेट की बैठक में इस बात का निर्णय लिया गया कि 16278 शिक्षाकर्मियों का संविलियन 1 नवंबर 2020 को किया जायेगा।
-मुख्यमंत्री ने बजट भाषण में भी किया था वादा
इसके पहले रमन सरकार के कार्यकाल के दौरान आठ साल की सेवा पूर्ण करने वाले करीब 1 लाख 7 हजार शिक्षाकर्मियों को इसका लाभ मिला था। साथ ही इस बात का निर्णय हुआ कि जैसे-जैसे शिक्षाकर्मी आठ साल की सेवा पूरी करते जाएंगे उनका संविलियन जनवरी और जुलाई महीने में किया जाएगा। इसके हिसाब से ही संविलियन की प्रक्रिया चल रही थी, लेकिन इस जुलाई में यह प्रक्रिया पूरी नहीं हो सकी।इसी बीच भूपेश सरकार के मंत्रिपरिषद ने फैसला लिया कि दो साल या उससे अधिक की सेवा अवधि पूरी करने वाले शिक्षाकर्मियों का संविलियन नवम्बर में किया जाएगा।

Share The News
Read Also  सेट परीक्षा में उत्तीण अभ्यार्थी नहीं हो पाएंगे सहायक प्राध्यापक परीक्षा में शामिल

Get latest news on Whatsapp or Telegram.

   

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of