वियतनाम में तूफान और लैंडस्लाइड ने मचाई तबाही, 35 की मौत-दर्जनों लापता

वियतनाम में टाइफून तूफान ने तबाही मचा दी है। तूफान के साथ बारिश और भूस्खलन ने कई लोगों की जान भी ले ली है। यहां पिछले 20 वर्ष में टकराने वाले सबसे शक्तिशाली तूफान ने लाखों लोगों को प्रभावित किया। इस तूफान में 35 लोगों के मारे जाने और 50 से अधिक लोगों के लापता हो गए हैं।

आंधी-तूफान के कारण वियतनाम में दो अलग भूस्खलन में 8 लोगों की मौत हो गई। इसके अलावा लगातार हो रही बारिश के चलते लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।  इस बीच तूफान में लापता लोगों को बचाने के लिए बचावकर्मी लगे हुए हैं। बचाव दल का पूरा फोकस देश के मध्य क्षेत्र के तीन गांवों पर है, जहां भूस्खलन से कम से कम 19 लोगों की मौत हो गई थी और 40 से अधिक अन्य लोगों के मलबे में दबे होने का शंका है।

उप प्रधानमंत्री त्रिन्ह दीन्ह डंग ने भूस्खलन से प्रभाविक इलाकों का दौरा किया। यहां सेना के जवान बुलडोजर से मलबे को हटाने के लिए काम कर रहे हैं। इस दौरान उन्होंने अधिकारियों को मदद के लिए और अधिक सैनिकों को भेजने का आदेश दिया। उन्होंने कहा जब मलबा हटाने के मशीनें पहुंचने में काफी समय लगेगा इससे बेहतर होगा कि बड़ी संख्या सैनिक उन स्थानों तक पहुंचकर लोगों के सुरक्षित स्थान तक पहुंचाएं।

बता दें कि मारे जाने वाले लोगों में 12 मछुआरे भी थे जिनकी नाव टाइफून तूफान के चलते 150 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चल रही हवाओं से पलट गई थी। वहीं 14 अन्य मछुआरे अब भी लापता हैं।

Read Also  सीमा पर चीन 1962 की तरह Loud Speaker से बजाने लगा पंजाबी गाना

वियतनाम कई सालों में सबसे भयंकर बाढ़ का सामना कर रहा है। यहां बाढ़ के कारण हुए भूस्खलन में सेना के बैरक भी जमींदोज हो गए हैं। भूस्खलन के कारण सेना के जवान भी लापता हो गए हैं। करीब 11 जवानों के बारे में अभी कोई जानकारी नहीं है। बता दें कि पिछले सप्ताह में वियतनाम के कई हिस्सों में भारी बारिश हुई है। वियतनाम में बाढ़ और बारिश के कारण कई लोग मारे जा चुके हैं। आने वाले दिनों में बाढ़ के पानी का स्तर और अधिक बढ़ने का खतरा बना हुआ है।

Share The News

Get latest news on Whatsapp or Telegram.