लीबिया में आतंकियों से छुडाए गए बंधक बनाए गए 7 भारतीय

लीबिया में आतंकियों द्वारा अपहृत सात भारतीय नागरिकों को रिहा कर दिया गया। यह जानाकरी ट्यूनीशिया में भारत के राजदूत ने दी। रिहा किए गए भारतीयों में आंध्रप्रदेश,  बिहार,  गुजरात और उत्तरप्रदेश राज्यों के रहने वाले हैं। सात भारतीयों का बीते 14 सितंबर को लीबिया के अस्सहवेरिफ से अपहरण किया गया था। नागरिकों के परिजनों ने केंद्र सरकार से रिहाई के प्रयास के लिए गुहार लगाई थी। लीबिया में भारत दूतावास नहीं है, बल्कि ट्यूनीशिया स्थित भारतीय मिशन ही लीबिया में भारतीयों के लिए कार्य करता है।

पिछले महीने लीबिया में उसके सात नागरिकों का अपहरण कर लिया गया था और उनकी रिहाई के लिए हरसंभव प्रयास किए जा रहे हैं। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा था कि अपहृत श्रमिक सुरक्षित हैं और ट्यूनीशिया में भारतीय मिशन उन्हें मुक्त करने के प्रयासों के लिए लीबिया सरकार के संपर्क में है।

MEA के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव ने कहा था कि ट्यूनीशिया में हमारा दूतावास, जो लीबिया में भारतीय नागरिकों के कल्याण से संबंधित मामलों को संभालता है, लीबिया के सरकारी अधिकारियों तक पहुंच गया है। वहां मौजूद अंतरराष्ट्रीय संगठनों ने भी भारतीय नागरिकों को बचाने में उनकी मदद लेने के लिए नियोक्ता को नियुक्त किया है।

उन्होंने यह भी कहा था कि अपहरणकर्ताओं द्वारा संपर्क किया गया और सबूत के तौर पर दिखाया गया कि भारतीय नागरिक सुरक्षित हैं और अच्छी तरह से रख रहे हैं। सितंबर 2015 में भारतीय नागरिकों को वहां की सुरक्षा स्थिति के मद्देनजर लीबिया की यात्रा से बचने के लिए एक सलाह जारी की गई थी। मई 2016 में सरकार ने अत्यधिक बिगड़ती सुरक्षा स्थिति के मद्देनजर इस उद्देश्य के लिए पूर्ण यात्रा प्रतिबंध लगा दिया। यह यात्रा प्रतिबंध अभी भी लागू है।

Share The News
Read Also  सीमा पर चीन 1962 की तरह Loud Speaker से बजाने लगा पंजाबी गाना

Get latest news on Whatsapp or Telegram.

   

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of