कोरोना: देश में हुई 86 प्रतिशत मौतों में से 80 प्रतिशत मौतें केवल मध्य प्रदेश में

सीआरएस की रिपोर्ट सामने आने के बाद शिवराज सरकार पर उठे सवाल
भोपाल। मध्य प्रदेश के सिविल रजिस्ट्रेशन सिस्टम के सरकारी डेटा से चौंकाने वाले आंकड़े सामने आए हैं। इस सिस्टम के मुताबिक पूरे प्रदेश में सिर्फ मई के महीने में 1.7 लाख मौतें हुई हैं। अब तक सिर्फ यह कहा जा रहा था कि राज्य में बीते 2 महीने में मरने वालों की संख्या लाखों में है, हालांकि इससे संबंधित कोई ठोस सबूत सामने नहीं आया था। यह पहली बार है जब सरकारी डेटा में दर्ज इतनी सारी मौतों के बारे में आंकड़े सामने आए हैं। बता दें कि सीआरएस राज्य में हो रहे जन्म और मृत्यु का हिसाब रखता है। सीआरएस के ही सरकारी डेटा के मुताबिक इस बार मई के महीने में हुई मौते हर बार होने वाली मौतों से 4 गुना ज्यादा है. इस साल जनवरी से मई के बीच पिछले साल की मुकाबले 1.9 लाख लोग ज्यादा मरे हैं। राज्य में मई 2019 में 31 हजार और 2020 में 34 हजार लोग मरे थे।
इस बार सिर्फ मई में 6 महीने के बराबर हुई मौतें
आकड़ों के हिसाब से इस बार मार्च में मौतों का आंकड़ा तेजी से बढऩे लगा। मार्च से अप्रैल तक इतने कम समय में ही मौतों की संख्या दोगुनी हो गई. हैरानी की बात है इस बार मई में 6 महीने के बराबर मौतें दर्ज हुईं हैं।
इंदौर में हुई सबसे ज्यादा मौतें
मध्य प्रदेश में कोरोना के संक्रमण से सबसे ज्यादा इंदौर शहर ही प्रभावित रहा है। डेटा की बात करें तो इंदौर में ही सबसे ज्यादा लोगों की जान गई है। इंदौर में अप्रैल-मई 2021 में 19 हजार लोगों की जान गई है जो पिछले 2 साल के हिसाब से 2 गुना ज्यादा है। वहीं भोपाल में अप्रैल-मई 2019 में 528 लोगों की मौत हुई. 2020 में 1204 और 2021 में 11045 लोगों की मौतें हुई हैं, लेकिन मौतों के यह आंकड़े इंदौर और भोपाल जैसे शहरों तक ही सीमित नहीं हैं, बल्कि छिंदवाड़ा जैसे ग्रामीण आबादी वाले जिले में भी दर्ज हुई मौतों की संख्या काफी ज्यादा है। मप्र में अप्रैल-मई 2021 में कोविड से हुई मौतों के सरकारी आंकड़े से 40 गुना मौतें दर्ज हुई हैं।
सीआरएस देश में हुई मौतों का हिसाब रखता है
सीआरएस के तहत ऑफिस ऑफ रजिस्ट्रार जनरल इंडिया, देशभर में जन्म और मृत्यु का हिसाब रखता है। सभी राज्यों को सीआरएस पर मौत और जन्म का आंकड़ा दर्ज करना होता है। देश में हुईं मौतें यहां हर हाल में दर्ज होती हैं. सीआरएस हर मौत का रिकॉर्ड रखता है, चाहे कहीं भी, किसी भी कारण से हुई हों, भले मेडिकल सर्टिफि केट बनवाया गया हो या नहीं।
2021 में पिछले साल के मुकाबले 1.9 लाख हुई ज्यादा मौतें
मप्र में इस साल अब तक 3.5 लाख मौतें दर्ज हुई हैं. जनवरी से मई के बीच 2021 में 2019 के मुकाबले 1.9 लाख ज्यादा मौतें हुई हैं। जबकि सरकार ने जनवरी से मई 2021 के बीच केवल 4461 कोविड मौतों की जानकारी दी है। मप्र में अप्रैल-मई 2021 में सरकारी आंकड़ों में दर्ज कोविड मौतों से 40 फीसदी ज्यादा मौतें हुई हैं। आंकड़े के मुताबिक इंदौर में सबसे ज्यादा मौते हुई हैं। इसके बाद भोपाल, जबलपुर, उज्जैन और छिंदवाड़ा जिलों में सबसे ज्यादा मौतें हुईं हैं। वहीं इस आंकड़े के सामने आने के बाद कांग्रेस ने सरकार पर सवाल उठाना शुरू कर दिया है। कांग्रेस का कहना है कि पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने पहले ही सरकार की पोल खोल दी थी। अब सरकारी आंकड़ों ने खुद ही सारी सच्चाई बयान कर दी है।

Share The News
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

CLICK BELOW to get latest news on Whatsapp or Telegram.

 





भारत ने संभाली संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की कमान तो पाकिस्तान को सताने लगा डर

By Reporter 5 / August 1, 2021 / 0 Comments
भारत ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की अध्यक्षता संभाली तो पाकिस्तान को डर सताने लगा है। रविवार को अगस्त के लिए कमान संभाला तो भारत में रूस के राजदूत निकोले कुदाशेव ने ट्वीट कर कहा कि एजेंडे में समुद्री सुरक्षा,...

अधिग्रहण मामला: सीएम बघेल के दामाद ने इंडियन एक्सप्रेस और केंद्रीय मंत्रियों को भेजा कानूनी नोटिस

By Rakesh Soni / August 4, 2021 / 0 Comments
रायपुर। दुर्ग जिले में स्थित चंदूलाल चंद्राकर मेमोरियल मेडिकल कॉलेज के अधिग्रहण की खबर सबसे पहले इंडियन एक्सप्रेस ने छापा था। जिसमें कहा गया कि भूपेश बघेल अपने दामाद को फायदा पहुंचाने के लिए अधिग्रहण बिल ला रहे हैं। अब...

देश के वीर जवानों की कलाइयों पर सजेगी उज्जैन की राखियां

By Reporter 5 / August 4, 2021 / 0 Comments
संगिनी ग्रुप 3000 राखियां भेजेगा उज्जैन,अशोक महावर। शहर की एक मात्र संस्था जो दीनदुखियों की सहायता के लिए हमेशा तात्पर्य रहती है। कोरोना काल मे संगिनी ग्रुप ने हजारों लोगों को भोजन सामग्री प्रदान कर एक इतिहास रचा है। ग्रुप...

छत्तीसगढ़: सोलर संयंत्र लगाने मिल रहा सब्सिडी

By Reporter 5 / August 4, 2021 / 0 Comments
छत्तीसगढ राज्य विद्युत नियामक आयोग द्वारा माह अक्टूबर 2019 में ग्रिड इंटरैक्टिव विकेन्द्रित नवीकरणीय ऊर्जा स्तोत्र विनियम 2019 जारी किया गया है जिसके तहत् उपभोक्ताओं द्वारा सौर संयंत्र स्थापना उपरांत ग्रिड में प्रवाहित विद्युत का नेट मीटरिंग प्रणाली पर समायोजन...

केन्द्र द्वारा जनहित और देशहित के प्रश्नों को संसद में लगने के बाद निरस्त करना जनविरोधी कृत्य: छाया वर्मा

By Rakesh Soni / August 2, 2021 / 0 Comments
रायपुर- कांग्रेस पार्टी की राज्य सभा सांसद छाया वर्मा द्वारा इस मानसून सत्र में जनहित और देशहित से जुड़े प्रश्नों को संसद में नियम विरूद्ध निरस्त किया जा रहा है। कई गंभीर मुद्दों को संसद में उठाने से उन्हें रोका...

अगर आपको है शुगर और ब्लडप्रेशर तो खाइये यह सब्जी

By Rakesh Soni / August 4, 2021 / 0 Comments
रायपुर। भारत में शुगर और ब्लडप्रेशर की बीमारी आम हो चली है। अनियमित खानपान के चलते अधिकांश लोगों में इस बीमारी ने घर कर लिया है। ज्यादा तवान लो तो ब्लडप्रेशर बौर ज्यादा मीठा खा लो तो शुगर की बीमारी...

स्तनपान कराने से माताओं को भी लाभ होता है: यूनिसेफ

By Reporter 5 / August 1, 2021 / 0 Comments
हर साल 1 से 7 अगस्त तक विश्व स्तनपान सप्ताह मनाया जाता है। रायपुर। विश्व स्तनपान सप्ताह के इस अवसर पर स्तनपान के महत्व और लाभों का उल्लेख करते हुए, यूनिसेफ छत्तीसगढ़ के प्रमुख जॉब ज़करिया ने कहा हैं कि...

कलिंगा विश्वविद्यालय में दो दिवसीय निःशुल्क स्वास्थ्य जांच शिविर का आयोजन

By Reporter 5 / August 4, 2021 / 0 Comments
रायपुर। कलिंगा विश्वविद्यालय मध्य भारत के अग्रणी विश्वविद्यालयों में से एक है। कलिंगा विश्वविद्यालय सदैव छात्रों के साथ-साथ कर्मचारियों के कल्याण हेतु प्रयासरत रहता है। हाल ही में विश्वविद्यालय ने सीएमएचओ, रायपुर की सहयोग से छात्रों और कर्मचारियों के लिए...

एक साथ पति से पांच पत्नियों ने लगातार बनाया शारीरिक संबंध, इसके बाद यह हुआ

By Reporter 5 / August 1, 2021 / 0 Comments
आमतौर पतियों पर पत्नियों को बेवफाई की सजा देने और उनसे मार-पीट की बात सामने आती है। मगर नाइजीरिया में एक अजीब मामला सामने आया है। यहां एक करोड़पति व्यक्ति के साथ उसकी छह में से पांच पत्नियों ने लगातार...

सेना में करियर बनाने के इच्छुक छात्रों के लिए राह खुली

By Reporter 5 / August 3, 2021 / 0 Comments
एनडीए की निःशुल्क कक्षाएं आरंभ दुर्ग। जिला प्रशासन द्वारा एनडीए की निःशुल्क कक्षाएं आरंभ कर दी गई है। निःशुल्क कक्षा में 25 छात्र हिस्सा ले रहे हैं।इसकी कोचिंग सेक्टर 6 में दी जा रही है। हर दिन 3 घंटे कक्षाएं...