देश में तबाही मचा सकता है चक्रवाती तूफान ‘Nivar’, 120 किमी की रफ्तार से चलेगी हवा

चक्रवाती तूफान ‘Nivar’ देश में तबाही मचा सकता है। यह तूफान 120 किमी की रफ्तार से आएगा। बंगाल की खाड़ी पर बना कम दबाव का क्षेत्र चक्रवाती तूफान में बदल सकता है। संभावना है कि यह तूफान 25 नवंबर को तमिलनाडु और पुडुचेरी के तटों को पार करेगा। तूफान का नाम ‘निवार’ रखा गया है। मौसम विभाग के मुताबिक इस दौरान हवा की रफ्तार 100 से 120 किलोमीटर प्रति घंटा हो सकती है।

‘निवार’ तूफान की आशंका के मद़देनजर तमिलनाडु और पुडुचेरी के कई इलाकों में अलर्ट जारी कर दिया गया है। मछुआरों को भी समुद्र में नहीं जाने की सलाह दी गई है। उन मछुआरों को भी सलाह दी है जो मछली पकड़ने के लिए पहले ही बाहर निकल चुके हैं। रिपोर्ट के मुताबिक 6 से 10 सेंटीमीटर तक बारिश भी पड़ सकती है। वहीं तूफान के मद्देनजर राष्ट्रीय आपदा बचाव दल ने अपनी छह टीमों को कूड्डालोर और चिदंबरम शहर में भेज दिया है। मौसम विभाग की चेतावनी के बाद एनडीआरएफ ने अपनी छह टीमों को इन दो शहरों में तैनात कर दिया है।

चक्रवाती तूफान निवार की वजह से मामल्लपुरम और कराईकल क्षेत्रों में भूस्खलन हो सकता है। इससे बुधवार दोपहर तक चेन्नई में भारी बारिश की संभावना है। बंगाल की खाड़ी के दक्षिण-पश्चिम पर कम दबाव के अगले 24 घंटे के दौरान एक चक्रवाती तूफान में तेज होने की संभावना है जो तमिलनाडु और पुडुचेरी के तटों की ओर बढ़ रहा है। मौसम विभाग ने इस तूफान की रफ्तार 18 किलोमीटर प्रति घंटा बताई है।

चेन्नई के क्षेत्रीय मौसम विभाग के डिप्टी निदेशक एस बालाचंद्रन के मुताबिक तटीय जिलों में सोमवार से ही बारिश पड़ सकती है जो धीरे-धीरे चक्रवाती तूफान में बदल जाएगी। मंगलवार और बुधवार को तटीय इलाकों में भारी बारिश के आसार हैं। 25 नवंबर तक मछुआरों को समुद्र में नहीं जाने की चेतावनी दी गई है। बालाचंद्रन का कहना है कि मंगलवार को शहर और उसके उपनगरों में बारिश पड़ने के आसार हैं। निवार तूफान तेजी से आगे बढ़ रहा है और कम दबाव वाला इलाका डिप्रेशन में बदल रहा है।

Share The News
Read Also  देवी मां को खुश करने को मां ने चढ़ा दी अपने बेटे की बलि

Get latest news on Whatsapp or Telegram.