पिता ने मासूम का दबा दिया गला, 6 घंटे शव को लेकर ऑटो में घूमता रहा

मां को याद कर लगातार रो रही थी एक मासूम को गुस्से में आकर पिता ने गला दबा दिया। इससे उसकी मौत हो गई। बाद में डर से पिता ऑटो में शव लेकर छह घंटे इधर से उधर भटकता रहा। गाजियाबाद के खोड़ा निवासी टेंपो चालक ने गुरुवार को अपनी ही चार साल की मासूम बेटी की हत्या कर दी। बाद में उसके शव को छह घंटे तक टेंपो में लेकर इधर-उधर घूमता रहा। शाम को आरोपी के भाई की सूचना पर नोएडा पुलिस ने उसे पकड़ लिया और खोड़ा पुलिस के हवाले कर दिया।

मूलरूप से सुल्तानपुर के बेगराजपुर कूरेभार निवासी वासुदेव गुप्ता खोड़ा की नेहरू गार्डन कॉलोनी में रहता है। वह मालवाहक टेंपो चलाता है। उसकी पत्नी स्पा सेंटर में काम करती थी। करीब 20 दिन पहले आरोपी की पत्नी तीन साल के बेटे को लेकर घर छोड़कर कहीं चली गई है, जबकि चार साल की बेटी अदिति पिता के पास ही थी। गुरुवार दोपहर में अदिति अपने भाई और मां को याद कर रो रही थी। वासुदेव ने उसे चुप कराने और बहलाने का प्रयास किया, लेकिन चुप नहीं हुई। इससे गुस्सा कर वासुदेव ने उसका गला दबा दिया। इससे बच्ची की मौत हो गई। आरोपी इसके बाद बच्ची के शव को टेंपो में रखकर पत्नी को तलाशने निकल पड़ा।

नोएडा सेक्टर-11 निवासी वासुदेव का भाई रवि शाम 5 बजे खोड़ा उसके घर आया, लेकिन उसे घर नहीं पाने पर उसने आशंका में पुलिस को उसके लापता होने की सूचना 112 पर पुलिस को दी। शाम करीब 6 बजे आरोपी को नोएडा पुलिस ने सेक्टर-11 से पकड़ लिया। पूछताछ में उसने अपना गुनाह कबूल कर लिया। बच्ची की मौत खोड़ा में ही हो गई थी, इसलिए नोएडा पुलिस ने खोड़ा पुलिस को मामले की सूचना देकर आरोपी खोड़ा पुलिस को सौंप दिया।

Read Also  भारत-चीन स्थिति पर चर्चा के लिए PM मोदी ने 19 जून को बुलाई सर्वदलीय वर्चुअल बैठक

सेक्टर-24 थाना प्रभारी प्रभात दीक्षित के मुताबिक, आरोपी टेंपो में ही बच्ची के शव को लेकर पत्नी को तलाश रहा था। इस मामले में खोड़ा थाना प्रभारी असलम का कहना है कि आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है। बच्ची के शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा गया है।

Share The News

Get latest news on Whatsapp or Telegram.