कपिल देव बोले-विराट अगर अच्छा कर रहे तो उन्हें कैप्टन रहने दो

टीम इंडिया के टेस्ट और सीमित ओवरों की कप्तानी बांटने के विचार को भारत के पहले विश्व कप विजेता कप्तान और आलराउंडर कप्तान कपिल देव ने सिरे से खारिज कर दिया। उन्‍होंने कहा कि भारतीय नीति दो कप्तानों की नहीं रही है। विराट कोहली अगर टी-20 में अच्छा कर रहे तो उन्हें कप्तान बने रहने दो।

संयुक्त अरब अमीरात में हाल संपन्न हुए इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में रोहित शर्मा की अगुवाई वाली मुंबई इंडियन्स विजेता बनी। राहुल की इस टीम ने नाम यह पांचवां आईपीएल खिताब था। इस टीम ने सभी खिताब रोहित की अगुवाई में जीते हैं। वहीं विराट की टीम रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु को एलिमिनेटर में सनराइजर्स हैदराबाद से हार का सामना करना पड़ा था।

उधर, विराट की कप्तानी में लगातार आठवें साल बेंगलुरु की टीम खिताब तक नहीं पहुंच पाई। इसके बाद पूर्व भारतीय ओपनर गौतम गंभीर सहित कई क्रिकेटरों ने कहा था कि विराट की जगह भारत की टी-20 की कप्तानी रोहित को सौंप देनी चाहिए। इसी के सवाल पर 1983 विश्वकप विजेता टीम के कप्तान कपिल ने एक मीडिया हाउस की वर्चुअल समिट के दूसरे दिन कहा, ‘‘मैं पहले अपनी संस्कृति देखता हूं। हमारे यहां दो कप्तानों का विचार नहीं चलता। क्या एक कंपनी में दो सीईओ हो सकते हैं। अगर विराट टी-20 में अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं तो उन्हें टीम का कप्तान बने रहने देना चाहिए।

गौर हो कि कपिल को अक्टूबर के आखिरी सप्ताह में दिल का दौरा पड़ा था और उनकी राजधानी दिल्ली के एक अस्पताल में एंजियोप्लास्टी सर्जरी हुई थी। कपिल स्वस्थ होकर गोल्फ कोर्स में लौटे थे और अब उन्होंने वर्चुअल रूप से इस समिट में हिस्सा लिया।

Read Also  शेफाली बनीं दुनिया की नंबर वन बल्लेबाज, वुमेंस T20 वर्ल्ड कप में बनाए तूफानी रन

कपिलदेव का मानना है कि अलग-अलग कप्तान होने से टीम को सामंजस्य बैठाने में दिक्कत आएगी। उन्होंने कहा, ‘‘प्रत्येक प्रारूप में हमारी 80 प्रतिशत टीम समान है। खिलाड़ियों को अलग-अलग विचारों वाले कप्तान पसंद नहीं है। इंग्लैंड, ऑस्ट्रेलिया और दक्षिण अफ्रीका की बात अलग है। उनकी मानसिकता और संस्कृति अलग है। हमारे यहां दो कप्तानों का विचार खिलाड़ियों में उलझन पैदा करेगा। उन्होंने कहा, ‘‘अगर विराट सीमित ओवरों में उपलब्ध नहीं होते हैं तो फिर नए कप्तान के लिए सोचा जा सकता है। लेकिन जब तक वह अपनी सेवाएं दे रहे हैं तब तक उन्हें टीम की अगुवाई करने देना चाहिए। मेरे ख्याल में दो-तीन खिलाड़ी हैं जो विराट की गैर मौजूदगी में अच्छा प्रदर्शन कर सकते हैं।”

Share The News

Get latest news on Whatsapp or Telegram.