BJP महबूबा के बयान पर आक्रामक, तिरंगा यात्रा निकालकर जताया विरोध

जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती के तिरंगे वाले बयान पर भाजपा आक्रमक हो गई है। भाजपाइयों ने श्रीनगर में महबूबा मुफ्ती के खिलाफ प्रदर्शन किया और कुपवाड़ा तक तिरंगा यात्रा निकाला। वहीं,  कुपवाड़ा के भाजपा कार्यकर्ता श्रीनगर के प्रसिद़ध लाल चौक पहुंचे और तिरंगा फहराने की कोशिश की।

लाल चौक के क्लॉक टावर पर तिरंगा फहराने के लिए कुपवाड़ा के भाजपा कार्यकर्ता पहुंचे,  हालांकि यहां पुलिस ने उन्हें पकड़ लिया। चार कार्यकर्ताओं को हिरासत में लिया गया। भाजपा सोमवार को फिर तिरंगा यात्रा निकालेगी।  इससे पहले रविवार को भी एबीवीपी के कार्यकर्ताओं ने जम्मू में पीडीपी के कार्यालय के बाहर नारेबाजी की थी और तिरंगा फहराया गया।

पीडीपी नेता महबूबा मुफ्ती गत दिनों नज़रबंदी से रिहा की गई हैं। इसके बाद से घाटी में राजनीतिक हलचल बढ़ी है। महबूबा ने बयान दिया था, जिसपर काफी बवाल हुआ। महबूबा ने कहा था, ‘मैं जम्मू-कश्मीर के अलावा दूसरा कोई झंडा नहीं उठाऊंगी। जिस वक्त हमारा ये झंडा वापस आएगा, हम उस (तिरंगा) झंडे को भी उठा लेंगे। मगर जब तक हमारा अपना झंडा,  जिसे डाकुओं ने डाके में ले लिया है, तब तक हम किसी और झंडे को हाथ में नहीं उठाएंगे। वो झंडा हमारे आईन का हिस्सा है, हमारा झंडा तो ये है। उस झंडे से हमारा रिश्ता इस झंडे ने बनाया है।’

जम्मू-कश्मीर में पीडीपी,  नेशनल कॉन्फ्रेंस समेत कई पार्टियों ने मिलकर फिर अनुच्छेद 370 को वापस लाने की मांग बुलंद की है। इन पार्टियों ने एक गठबंधन बनाया है,  जिसे गुपकार समझौता कहा गया है। इसका मकसद दोबारा 370 को वापस लागू करवाना है।

Share The News
Read Also  विमान यात्रा के लिए 14 से कम उम्र के बच्चों के लिए अनिवार्य नहीं आरोग्य सेतु ऐप

Get latest news on Whatsapp or Telegram.