दुष्कर्म की दास्तान: 3 हजार में लड़की को खरीद किया दुष्कर्म

  • गर्भवती हुई तो छोड़ा,अब मां बनी,घरघोड़ा थाना क्षेत्र के गांव का मामला

रायपुर। घरघोड़ा थानाक्षेत्र के एक गांव में रहने वाले एक शख्स ने मानसिक हालत ठीक न होने पर अपनी नाबालिग बेटी को एक युवक के हाथों 3 हजार में बेच दिया। खरीदार युवक उसे अपने साथ घर ले गया और उसका कई दिनों तक शोषण किया, युवक का पिता भी किशोरी से दुष्कर्म करता रहा। किशोरी गर्भवती हुई तो उसे लावारिस छोड़ दिया। मामला नारी निकेतन तक पहुंचने पर कलियुगी पिता के साथ ही दुष्कर्म करने वाले युवक व उसके पिता के खिलाफ अपराध दर्ज किया गया है। नाबालिग का पिता पुलिस हिरासत में हैं लेकिन उसे कथित तौर पर खरीदने वाला युवक और उसका पिता फरार हैं। शोषण का शिकार गर्भवती किशोरी सड़कों पर इधर उधर भटक रही थी, देखने में उसकी मानसिक हालत ठीक नहीं लग रही थी। इस पर अमलीडीह घरघोडा के सरपंच एवं मितानिन ने 15 मई को 181 महिला हेल्प लाइन रायपुर को दी। संपर्क करके 18 मई को सखी वन स्टॉप सेंटर रायगढ के माध्यम से बदहवाश घूम रही युवती की हालत देख उसे घरघोड़ा स्वास्थ केन्द्र में भर्ती कराया गया। 19 मई को उसने एक बच्चे को जन्म दिया। डॉक्टरों के इलाज में उसे कुछ परेशानी समझ कर रायगढ जिला अस्पताल से मनोरोग चिकित्सक को दिखाया गया।

जहां पर उसकी मानसिक स्थिति कुछ ठीक नहीं बताई गई। रिपोर्ट के आधार पर मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी रायगढ़ के आदेश पर उसे मानसिक उपचार केन्द्र सेन्द्री बिलासपुर 29 मई को भर्ती कराया गया। 4 महीने इलाज के बाद युवती की मानसिक स्थिति ठीक हुई तो उसने लोगों अपना दर्द बयां करना शुरू कर दिया। रायगढ़ लाने के बाद पांच महिला अधिकारियों की उपस्थिति में काउसंलिंग के माध्यम से अपना बयान दिया। पीड़िता के बयान सुन कर हर कोई दंग रह गया। उसने बताया कि घर में सब उसे प्रताड़ित करते थे। उसके घर पर तमनार के पेलमा में रहने वाले दीपक व उसके पिता का आना जाना था। इस पर पिता ने उसे 3000 हजार रुपए में बेच दिया था। दीपक व उसके पिता उसे अपने साथ ले गए, और दुष्कर्म करते रहे। जब वह उनके पास थी उस समय वह नाबालिग थी। इसी बीच वह उनसे गर्भवती हो गई, जब उन्हें पता चला कि वह गर्भवती है तो वह उसे अमलीडीह लाकर छोड़ गए। घर वाले भी उस पर ध्यान नहीं दे रहे थे। इस पर इधर उधर भटक रही थी। मामला दर्ज होने पर नाबालिग का पिता उसे बेचने के बदले शादी के लिए युवक को सौंपने की बात कह रहा है। फिलहाल पीड़ित नारी निकेतन अम्बिकापुर में है। थाना प्रभारी घरघोड़ा ने बताया कि धारा 363, 366-ए,376(2)(क) आईपीसी, 376(2)(ल्ल)आईपीसी, 5जे 5(के) पाक्सो एक्ट के तहत अपराध दर्ज किया है।

Share The News
Read Also  सौरव गांगुली बोले- IPL को हम बंद दरवाजे के पीछे भी कराने को तैयार

Get latest news on Whatsapp or Telegram.

   

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of