बुनियाद की बेटियों ने किया मां बनकर अनजान बच्चे का अंतिम संस्कार

रायपुर। बुनियाद की बेटियों अनमोल फाउंडेशन ने एक बार फिर लोगों के सामने मिसाल पेश की है तलाब में मिले अज्ञात शिशु का उन्होंने अंतिम संस्कार किया। डूमर तालाब आमानाका थाना क्षेत्र के अंतर्गत छोड़ा गया बच्चा पुलिस को मृत अवस्था में बच्चा मिला।

पिछले कुछ समय में नवजात शिशुओं को छोड़ने और मृत पाये जाने की घटना का ग्राफ बढ़ता दिखा है। फाउंडेशन की संचालक डॉक्टर निम्मी चौबे ने बताया हमें थाने से फोन आया एक बच्चे का अंतिम संस्कार करना है। हमने हामी भरी और अंतिम संस्कार की तैयारी में जुट गए। बच्चे पानी में डूबने के कारण के कारण नही बच पाया। ये बहुत दुख की बात है, बच्चे को एक सुई चुभती है तो माँ का कलेजा निकल जाता है, लेकिन क्या ऐसा कारण था जो ममता के आड़े आया और इस मासूम को पानी में छोड़ दिया गया। नवजात शिशु के साथ होने वाली ऐसी दुर्दशा को रोकने के लिए सख्त से सख्त कार्यवाही होनी चाहिए।

बुनियाद बेटियां से जुड़ी बेटियों का मानना है कि 2018 से अब तक इस संस्था ने 70 अज्ञात शव का अंतिम संस्कार किया है। आगे भी इस तरह की अज्ञात शव के अंतिम संस्कार हेतु तत्परता से समाज में एक नई पहल लेकर आने वाले हैं बुनियाद बेटियां अनमोल फाउंडेशन का मुख्य उद्देश्य महिलाओं को जागरूक करना समाज में नई परिवर्तन लेकर आना है। अगर किसी शव को मुक्ति मीले इससे नेक काम और कोई नही हो सकता।

ऐसे कई लोग हैं जो सेवा भाव के इस काम को करने के लिए संस्था से जुड़े हैं। आज डॉक्टर शोभना तिवारी, एकता शर्मा, प्रतिभा चौबे, चंदा प्रजापति, किरण देवांगन, लक्ष्मी साहू उपस्थित रहे। डॉ नरेश साहू का विशेष सहयोग रहा।

Share The News
Read Also  बच्चें 'पढ़ई तुहंर दुआर' पोर्टल से पढ़ाई के साथ-साथ क्रिकेट, योग, कोरियोग्राफी, पेंटिंग, फोटोग्राफी भी सिखेंगे

Get latest news on Whatsapp or Telegram.