पूर्वी लद्दाख विवाद पर सेना प्रमुख बोले- चरणबद्ध तरीके से हट रही हैं भारत और चीन की सेनाएं

Website Advt. - Chhattisgarh Tourism (1)
Website Advt. - Chhattisgarh Tourism (1)
Website Advt. - Chhattisgarh Tourism (2)
Website Advt. - Chhattisgarh Tourism (2)
Website Advt. - Chhattisgarh Tourism (3)
Website Advt. - Chhattisgarh Tourism (3)
Website Advt. - Chhattisgarh Tourism (3)
Website Advt. - Chhattisgarh Tourism (3)
previous arrow
next arrow

देहरादूनः थलसेना अध्यक्ष जनरल एम एम नरवणे ने पूर्वी लद्दाख विवाद पर शनिवार को कहा कि चीन से लगती भारत की सीमा पर स्थिति पूरी तरह से नियंत्रण में है और दोनों देशों की सेनाएं चरणबद्ध तरीके से हट रही हैं, जिसकी शुरुआत गलवान घाटी से हो रही है. जनरल नरवणे के इस बयान से क्षेत्र से सैनिकों की परस्पर वापसी की पहली आधिकारिक पुष्टि हुई है.

Read Also  राजस्थान में हमला कर मप्र के ग्रामीणों ने महिलाओं-बच्चों का किया अपहरण

Website Advt. - Chhattisgarh Government
Website Advt. - Chhattisgarh Government
Website Advt. - Chhattisgarh Government 2
Website Advt. - Chhattisgarh Government 2
Website Advt. - Chhattisgarh Government
Website Advt. - Chhattisgarh Government
Website Advt. - Chhattisgarh Government 3
Website Advt. - Chhattisgarh Government 3
Website Advt. - Chhattisgarh Government 4
Website Advt. - Chhattisgarh Government 4
Website Advt. - Chhattisgarh Government 5
Website Advt. - Chhattisgarh Government 5
previous arrow
next arrow

 

उन्होंने विश्वास जताया कि दोनों देशों के बीच जारी वार्ता से वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) के बारे में माने जा रहे सभी मतभेद सुलझ जाएंगे. जनरल नरवणे यहां भारतीय सैन्य अकादमी की पासिंग आउट परेड से इतर संवाददाताओं से बात कर रहे थे. उन्होंने कहा ‘दोनों पक्ष चरणबद्ध तरीके से हट रहे हैं. हमने उत्तर से, गलवान नदी के क्षेत्र से इसकी शुरुआत की है. हमारी बहुत सार्थक बातचीत हुई. और जैसा कि मैंने कहा कि यह जारी रहेगी तथा आगे हालात सुधरेंगे.’

 

पांच सप्ताह से अधिक समय तक बनी गतिरोध की स्थिति

 

भारतीय और चीनी सेनाओं के बीच पूर्वी लद्दाख में पैंगोंग सो, गलवान घाटी, डेमचोक और दौलत बेग ओल्डी में पांच सप्ताह से अधिक समय से गतिरोध की स्थिति बनी हुई है. चीनी सेना के जवान बड़ी संख्या में पैंगोंग सो समेत अनेक क्षेत्रों में सीमा के भारतीय क्षेत्र की तरफ घुस आए थे.

 

भारतीय सेना वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) के उल्लंघन की इन घटनाओं पर कड़ी आपत्ति व्यक्त करती रही है और उसने क्षेत्र में अमन-चैन की बहाली के लिए चीनी सैनिकों की तत्काल वापसी की मांग की है. दोनों पक्षों ने पिछले कुछ दिन में विवाद सुलझाने के लिए श्रृंखलाबद्ध बातचीत की है.

Read Also  68 साल बाद फिर टाटा की होगी एयर इंडिया: सरकार ने लगाई मुहर

 

उन्होंने कहा ‘मैं सभी को आश्वस्त करना चाहूंगा कि चीन के साथ हमारी सीमाओं पर स्थिति पूरी तरह नियंत्रण में है. हम श्रृंखलाबद्ध बातचीत कर रहे हैं जो कोर कमांडर स्तर की वार्ता से शुरू हुई थी जिसके बाद स्थानीय स्तर पर समान रैंक के कमांडरों के बीच बैठक हुई.’ थलसेना प्रमुख ने कहा ‘परिणामस्वरूप काफी हद तक दोनों पक्ष एक-दूसरे के साथ गतिरोध से अलग हुए हैं और हमें उम्मीद है कि सतत बातचीत से हम अपने बीच माने जाने वाले सभी मतभेदों को सुलझा लेंगे.’

 

हॉट स्प्रिंग क्षेत्र से दोनों सेनाओं ने हटना शुरू किया 

 

सैन्य सूत्रों ने मंगलवार को दावा किया था कि दोनों सेनाओं ने गलवान घाटी में गश्त बिंदु 14 और 15 के आसपास से तथा हॉट स्प्रिंग क्षेत्र से हटना शुरू कर दिया है. सूत्रों का कहना है कि चीनी पक्ष दोनों क्षेत्रों में डेढ़ किलोमीटर तक पीछे हट गया है. हालांकि, विदेश मंत्रालय या रक्षा मंत्रालय ने अभी तक इस संबंध में प्रश्नों का उत्तर नहीं दिया है. हालात पर नजर रख रहे लोगों का कहना है कि अभी तक इस बात का कोई प्रमाण नहीं है कि चीनी सैनिक गलवान घाटी और हॉट स्प्रिंग में एलएसी के भारतीय क्षेत्र से वापस हो गए हैं.

 

विवाद को समाप्त करने के लिए पहले गंभीर प्रयास के तहत लेह स्थित 14वीं कोर के जनरल ऑफिसर कमांडिंग, लेफ्टिनेंट जनरल हरिंदर सिंह और तिब्बती सैन्य जिले के कमांडर मेजर जनरल लिऊ लिन ने छह जून को करीब सात घंटे तक वार्ता की थी. इसके बाद बुधवार और शुक्रवार को मेजर जनरल स्तर की वार्ता हुई. दोनों बार भारतीय पक्ष ने यथास्थिति बहाल करने और इलाकों से हजारों चीनी सैनिकों की तत्काल वापसी पर जोर दिया था. भारत इस क्षेत्र को एलएसी का अपना क्षेत्र मानता है.

Read Also  प्रधानमंत्री मोदी का ऐलान-तीनों कृषि कानूनों को वापस लेगी सरकार

 

रक्षा मंत्री ने की सैन्य तैयारियों की समीक्षा

 

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने शुक्रवार को पूर्वी लद्दाख में तथा सिक्किम, उत्तराखंड और अरुणाचल प्रदेश में वास्तविक नियंत्रण रेखा के पास अन्य कई संवेदनशील इलाकों में समग्र सैन्य तैयारियों की समीक्षा की. सूत्रों ने बताया कि पूर्वी लद्दाख में गतिरोध के बाद दोनों पक्षों ने पिछले कुछ दिन में उत्तरी सिक्किम, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड और अरुणाचल प्रदेश में एलएसी पर अतिरिक्त सैनिकों को तैनात किया है.

 

पिछले महीने की शुरुआत में गतिरोध शुरू होने के बाद भारतीय सैन्य नेतृत्व ने फैसला किया था कि भारतीय सैनिक पैंगोंग सो, गलवान घाटी, डेमचोक तथा दौलत बेग ओल्डी के सभी विवादित क्षेत्रों में चीनी सैनिकों के आक्रामक अंदाज से निपटने के लिए कड़ा रुख अपनाएंगे. चीनी सेना एलएसी के पास धीरे-धीरे अपना रणनीतिक भंडार बढ़ाती रही है और उसने वहां तोपें एवं अन्य भारी सैन्य उपकरण पहुंचाए हैं.

 

सड़क निर्माण पर चीन ने जताया विरोध

 

मौजूदा गतिरोध के शुरू होने की वजह पैंगोंग सो झील के आसपास फिंगर क्षेत्र में भारत के एक महत्वपूर्ण सड़क निर्माण का चीन द्वारा किया जा रहा तीखा विरोध है. इसके अलावा गलवान घाटी में दारबुक-शयोक-दौलत बेग ओल्डी को जोड़ने वाली एक और सड़क के निर्माण पर भी चीन विरोध जता रहा है.

 

पैंगोंग सो में फिंगर क्षेत्र में सड़क को भारतीय जवानों के गश्त करने के लिहाज से अहम माना जाता है. भारत ने पहले ही तय कर लिया है कि चीनी विरोध की वजह से वह पूर्वी लद्दाख में अपनी किसी सीमावर्ती आधारभूत परियोजना को नहीं रोकेगा. दोनों देशों के सैनिक गत पांच और छह मई को पूर्वी लद्दाख के पैंगोंग सो क्षेत्र में आपस में भिड़ गए थे. इस घटना में दोनों पक्षों के सैनिक घायल हुए थे. इस झड़प में भारत और चीन के करीब 250 सैनिक शामिल थे. इसी तरह की एक अन्य घटना में नौ मई को उत्तरी सिक्किम सेक्टर में नाकू ला दर्रे के पास लगभग 150 भारतीय और चीनी सैनिक आपस में भिड़ गए थे.

Share The News


Website Advt. - Chhattisgarh Tourism (1)
Website Advt. - Chhattisgarh Tourism (1)
Website Advt. - Chhattisgarh Tourism (2)
Website Advt. - Chhattisgarh Tourism (2)
Website Advt. - Chhattisgarh Tourism (3)
Website Advt. - Chhattisgarh Tourism (3)
Website Advt. - Chhattisgarh Tourism (3)
Website Advt. - Chhattisgarh Tourism (3)
previous arrow
next arrow


CLICK BELOW to get latest news on Whatsapp or Telegram.

 


रायपुर के स्नेहिल अहिरवार बने पहले भारतीय ई-स्पोर्ट्स आईटीओ

By Sub Editor / September 24, 2023 / 0 Comments
  रायपुर, छत्तीसगढ़: रायपुर के निवासी स्नेहिल अहिरवार ने 19वें एशियाई खेलों (23-08 अक्टूबर 2023) में ई-स्पोर्ट्स के लिए भारत के पहले अंतर्राष्ट्रीय तकनीकी अधिकारी (आईटीओ) के रूप में चमक दिखाई है। यह अवसर न केवल उनकी अंतर्राष्ट्रीय उपलब्धि है,...
vyapam

CG Vyapam Exam 2023 में 2600 अभ्यर्थियों का भाग्य सील बंद

By Reporter 1 / September 24, 2023 / 0 Comments
छत्तीसगढ़ व्यावसायिक परीक्षा मंडल (सीजीव्यापमं) द्वारा एक महत्वपूर्ण परीक्षाएं आयोजित की गई।यह परीक्षा प्रदेशभर में आयोजित की गई।इसमें बड़ी संख्या में पूर्वनिर्धारित परीक्षार्थियों ने परीक्षा दियाहै।24 सितंबर को हैंडपंप टेक्निशियन रिक्रूटमेंट एग्जाम का आयोजन किया गया।       परीक्षा रविवार सुबह 10 बजे से दोपहर...
medi

बिहार के डा. दिलीप ने 96 की उम्र में बनाई नशामुक्ति की दवा

By Reporter 1 / September 24, 2023 / 0 Comments
लोग नशा छोड़ना चाहते हैं, लेकिन छूटता ही नहीं। इसको ध्यान में रखकर बिहार के भागलपुर के पीरपैंती निवासी पद्मश्री डा. दिलीप कुमार सिंह ने 96 वर्ष की उम्र में नशामुक्ति की दवा तैयार की है। दवा का बिहार एवं...
disease

चीन से फिर निकलेगी कोरोना से भी खतरनाक बीमारी

By Reporter 1 / September 26, 2023 / 0 Comments
चीन फिर दुनिया को नया तनाव देने वाला है,क्‍योंकि चीन की हेल्थ एक्सपर्ट शी झेंगली ने दावा किया है कि आने नए कोरोना वायरस की उत्पत्ति हो सकती है। शी ने कोविड-19 महामारी से सबक लेते हुए ऐसे प्रकोप से...
bhupesh

भूपेश कैबिनेट ने किसान, साहू समाज और रियल स्टेट को दी बड़ी सौगात

By Reporter 1 / September 26, 2023 / 0 Comments
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की अध्यक्षता में आयोजित कैबिनेट की बैठक में किसान, पत्रकार, साहू समाज और रियल स्टेट को बड़ी सौगात दी गई। मुख्‍यमंत्री निवास कार्यालय में हुई बैठक में कई महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए। बैठक में खरीफ विपणन वर्ष...
rashifal

आज का राशिफल

By Reporter 1 / September 24, 2023 / 0 Comments
मेष राशि : आज का दिन आपके लिए खुशनुमा रहने वाला है। आपके घर में किसी शुभ और मांगलिक कार्यक्रम का आयोजन हो सकता है। किसी जरूरी काम को कल पर ना टाले, नहीं तो समस्या हो सकती है और...
rep

युवती ने गैंगरेप का लगाया आरोप, तीन आरोपी गिरफ्तार

By Rakesh Soni / September 27, 2023 / 0 Comments
बेमेतरा. छत्तीसगढ़ में एक बार फिर गैंगरेप का मामले सामने आया है, जिसमें युवती ने गांव के तीन युवकों पर गैंगरेप का आरोप लगाया है. यह घटना बेमेतरा जिले की है. पुलिस ने पीड़िता की शिकायत के बाद तीनों आरोपियों के...
rashifal

आज का राशिफल

By Reporter 1 / September 27, 2023 / 0 Comments
मेष राशि : आज का दिन आपके लिए आध्यात्मिक की ओर अग्रसर होने के लिए रहेगा। कार्यक्षेत्र में आपको कोई बड़ी सफलता मिल सकती है, जिसके मिलने से आपकी प्रसन्नता का ठिकाना नहीं रहेगा। परिवार में माहौल खुशनुमा रहेगा, तो...
coria

संविधान का हिस्सा बना नॉर्थ कोरिया में परमाणु हथियार बनाना

By Reporter 1 / September 28, 2023 / 0 Comments
नॉर्थ कोरिया ने परमाणु क्षमता को बढ़ाने की नीति को संविधान में शामिल कर लिया है। इसके साथ ही तानाशाह किम जोंग ने अमेरिका के उकसावे को रोकने के लिए परमाणु हथियार के प्रोडक्शन को बढ़ाने की भी घोषणा की।...

बड़ी ख़बर: राहुल गांधी और भूपेश बघेल द्वारा ‘छत्तीसगढ़ ग्रामीण आवास न्याय योजना’ का शुभारंभ, 10 लाख 76 हजार हितग्राहियों को लाभ

By Sub Editor / September 25, 2023 / 0 Comments
बिलासपुर, 25 सितम्बर 2023: आज, लोकसभा सांसद राहुल गांधी और मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बिलासपुर, छत्तीसगढ़ के तखतपुर विकासखण्ड में 'आवास न्याय सम्मेलन' के माध्यम से 'छत्तीसगढ़ ग्रामीण आवास न्याय योजना' का शुभारंभ किया। इस योजना के तहत 47,090 आवासहीन...

Leave a Comment