Ekhabri exclusive: छत्तीसगढ़ के मदकू द्वीप में नृत्य करते चतुर्भुजी गणेश प्रतिमा,जानिये क्यों पूजना चाहिये इस स्वरूप के गणेश



मदकू द्वीप मुंगेली जिले में हिंदुओं और ईसाइयों का पवित्र स्थल है।इसी स्थल से 10वीं से 11वीं शताब्दी के कलचुरी कालीन 23 प्रस्तर मंदिरों के अवशेष और उनसे संबंधित मूर्तियाँ प्राप्त हुयी हैं। इन्हीं अवशेषों में चतुर्भजी नृत्य करते गणेश प्रतिमा मिली है।

कैसे पहुँचे मदकू द्वीप?


रायपुर – बिलासपुर राजमार्ग पर 76 कि.मी. या बिलासपुर–रायपुर मार्ग पर 37 कि.मी. पर बैतलपुर स्थित है । बैतलपुर से लगभग 4 कि.मी. दूर शिवनाथ नदी के तट पर स्थित द्वीप पर एनीकट से जाया जा सकता है । इसके अलावा निपानिया से 9 किलोमीटर दूर या भाटापारा से 14 किलोमीटर दूर कड़ार-परसवानी मार्ग से इस द्वीप पर सड़क से जा सकते

मदकू द्वीप की विशेषता
चारों ओर शिवनाथ नदी से घिरा मदकू द्वीप प्रसिद्ध पुरातात्विक स्थल है, इसे मदकू,मडकू या मनकू द्वीप के नाम से भी जाना जाता है।शिवनाथ की दो धारायें द्वीप को दो भागों में विभक्त करती हुई ईशान कोण में बहती है जिसे हिन्दू वास्तुशात्र में पवित्र माना गया है।

कवर्धा के भोरमदेव मन्दिर में भी है नृत्य करते गणेश जी

छत्तीसगढ़ के उत्तर-पश्चिमी भाग में कवर्धा जिला जो की सीमांत जिला, मध्य प्रदेश से लगा हुआ। यह क्षेत्र जंगल से घिरा, झीलों के साथ एक पहाड़ी पर ऐतिहासिक शिव मंदिरों का घर है जिसमें शैव के साथ वैष्णव, शक्ति परंपरा की शैली को खूबसूरती मन्दिर है। यहां के सबसे पुराने मंदिर 7वीं शताब्दी के आसपास ईंटों से बनाए गए थे। लम्बे समय से प्रकृति की मार झेल अब खंडहर हो गए थे बाद में मंदिरों को लाल बलुआ पत्थर से बनाया गया। दोनों शैलियाँ भोरमदेव समूह के मंदिरों में पाई जाती हैं – चार एक दूसरे के करीब, दो मुख्य भोरमदेव मंदिर से लगभग एक किलोमीटर दूर।

Read Also  सुविचार: बड़े की छाया अनमोल है
Wikimedia.org से तस्वीर प्राप्त है

इन मंदिरों में एक स्थान पर नाचती हुई गणेशजी की प्रतिमा है। जो 11वी शताब्दी की नागर शैली की है।

चतुर्भुजी गणेश जी की प्रतिमा
यह प्रतिमा लगभग 65-70 वर्ष पूर्व स्थानीय लोगों को द्वीप क्षेत्र में प्राप्त हुई थी इसके बाद इस प्रतिमा को मंदिर में रखकर पूजा जाने लगा है। नृत्य की मुद्रा में दक्षिणावर्त चतुर्भजी गणेश जी की विलक्षण प्रतिमा इस क्षेत्र की शैव धर्म सत्ता की पुष्टि करता है। गणेश जी की यह मूर्ति 10वीं से 11वीं सदी के स्थापत्य कला का बेहतरीन नमूना है।

नृत्य करते गणपति जी के पूजन का महत्व
आप सभी ने विभिन्न प्रकार के छवि वाले गणेश जी की पूजा करते हुए देखा और सुना होगा ये सभी मूर्तियों का अपना अलग महत्व है।



चतुर्भुजी गणेश जी की प्रतिमा
यह प्रतिमा लगभग 65-70 वर्ष पूर्व स्थानीय लोगों को द्वीप क्षेत्र में प्राप्त हुई थी इसके बाद इस प्रतिमा को मंदिर में रखकर पूजा जाने लगा है। नृत्य की मुद्रा में दक्षिणावर्त चतुर्भजी गणेश जी की विलक्षण प्रतिमा इस क्षेत्र की शैव धर्म सत्ता की पुष्टि करता है। गणेश जी की यह मूर्ति 10वीं से 11वीं सदी के स्थापत्य कला का बेहतरीन नमूना है।

नृत्य करते गणपति जी के पूजन का महत्व
आप सभी ने विभिन्न प्रकार के छवि वाले गणेश जी की पूजा करते हुए देखा और सुना होगा ये सभी मूर्तियों का अपना अलग महत्व है।


   नृत्य करते हुए गणपति जी का पूजन विशेष रूप से कला जगत से जुड़े व्यक्तियों को करना चाहिए। इनका यह स्वरूप धन और आनंद देने वाला स्वरुप है। इस रूप की पूजा करने से कला की दिशा में सफलता प्राप्त होती है। साथ ही इनका पूजन नकारात्मक ऊर्जा को रोकने में सहायक है।

Read Also  कलिंगा यूनिवर्सिटी में बी.एड. के विद्यार्थियों के लिए स्वागत कार्यक्रम फर्स्ट स्टेप -2021 का हुआ ऑनलाईन आयोजन



भारत में नृत्य करते गणेश जी के मंदिर
नृत्य करते गणपति जी को मुख्यतः उत्तर भारत में अधिक पूजा जाता है। इनमें से राजस्थान अलवर के नृत्य मुद्रा वाले गणेश जी प्रसिद्ध है। इसके अतिरिक्त गुजरात,उत्तर प्रदेश के शिव मंदिरों में भी इसी छवि के गणेश जी पूजे जा रहे हैं।

Share The News


CLICK BELOW to get latest news on Whatsapp or Telegram.

 


अरुण साव को बनाया भाजपा प्रदेश अध्यक्ष

By Rakesh Soni / August 9, 2022 / 0 Comments
रायपुर। भाजपा ने बड़ा परिवर्तन किया है। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने बिलासपुर के सांसद अरूण साव को छत्तीसगढ़ का प्रदेश अध्यक्ष नियुक्त किया है। इस संबंध में राष्ट्रीय महासचिव अरूण सिंह ने आदेश जारी किया है। अरुण...

Ekhabri विशेष: 11 अगस्त को भद्रा समाप्त होने के बाद बांधी जाएगी राखी, 12 को दिनभर बांध सकते हैं राखी

By Reporter 5 / August 8, 2022 / 0 Comments
रायपुर। राखी बंधने को लेकर कई तरह की बात सामने आ रही है। पंचांग अलग अलग होने के कारण पंडित भी अलग-अलग तर्क देरहे हैं। कुछ 11 तारीख को रक्षाबंधन को सही बता रहे हैं तो कुछ भद्रा होने के...

बिजली बिल हाफ पर अब लाभ की पर्ची:बिल के साथ स्लिप देकर बताया जा रहा कितनी छूट दी गई

By Rakesh Soni / August 7, 2022 / 0 Comments
  रायपुर। छत्तीसगढ़ राज्य विद्युत वितरण कंपनी ने बिजली बिल हाफ योजना पर नया दांव खेला है। बिजली कंपनी जुलाई महीने के बिल के साथ एक अलग पर्ची भी दे रही है। इसमें बताया जा रहा है कि बिजली बिल...

बोल बम…सीएम निकले कांवड़ यात्रा पर

By Rakesh Soni / August 5, 2022 / 0 Comments
रायपुर पश्चिम विधानसभा के विधायक विकास उपाध्याय की तरफ से आयोजित कांवड़ यात्रा में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल भी शामिल हुए। गुढिय़ारी स्थित मारुति मंगलम शुरू कांवड़ यात्रा प्रारंभ हुई। यहां मुख्यमंत्री ने मच्छी तालाब हनुमान मंदिर में पूजा-अर्चना कर प्रदेश...

जानिए क्यों छत्तीसगढ़ में बहनें देती हैं भाइयों को मरने का श्राप

By Rakesh Soni / August 8, 2022 / 0 Comments
रायपुर। भारत अपने अलग-अलग त्योहरों और रीति रिवाजों के लिए पूरी दुनिया में जाना जाता है। इन्हीं त्योहारों में शामिल है रक्षाबंधन जो सावन महीने की पूर्णिमा को मनाया जाता है। यह त्योहार भाई-बहन के पवित्र रिश्ते को दर्शाता है।...

धरना दे रहे कांग्रेसियों की जेब काटी, नेता के जेब से 50 हजार ले उड़े चोर

By Rakesh Soni / August 5, 2022 / 0 Comments
रायपुर। रायपुर में शुक्रवार को विरोध प्रदर्शन करने जुटे कांग्रेसी नेता चोरी की वारदात का शिकार हो गए। बताया जा रहा है कि कई नेताओं के सामान भीड़ में इधर-उधर हो गए। कुछ नेताओं के साथ हुई घटना से साफ...

डायबिटीज को नियंत्रित करने में सहायक हो सकता है एक्यूपंक्चर

By Reporter 1 / August 4, 2022 / 0 Comments
शरीर जब सही तरीके से रक्त में मौजूद ग्लुकोज या शुगर का उपयोग नहीं कर पाता तब व्यक्ति में डायबिटीज की समस्या आती है। यह भारत सहित दुनियाभर में आम बीमारी है। एक ताजा अध्ययन में इसे नियंत्रित करने में...

छत्तीसगढ़ लोक सेवा आयोग द्वारा बड़े पैमाने में भर्ती निकली

By Reporter 5 / August 4, 2022 / 0 Comments
रायपुर। छत्तीसगढ़ लोक सेवा आयोग द्वारा बड़े पैमाने में भर्ती की जा रही है। भृत्य के कुल 91 पदों में सीधी भर्ती के लिए विज्ञापन जारी किया गया है। इन पदों की प्रथम चरण की लिखित परीक्षा रविवार 25 सितंबर...

ब्लैक कोबरा फैमिली कार में बैठकर पहुंची जंगल, :रायपुर में 14 कोबरा का किया गया रेस्क्यू

By Rakesh Soni / August 5, 2022 / 0 Comments
 सपेरों की रेस्क्यू टीम के साथ झड़प रायपुर। रायपुर के कई गली मोहल्लों में सांप की नुमाइश कर पैसे कमाते कुछ लोग दिख जाते हैं। दरअसल वन अधिनियम के तहत ऐसा किया जाना गैरकानूनी है। अब ऐसे लोगों के खिलाफ...

राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री से मिले मुख्यमंत्री भूपेश बघेल

By Rakesh Soni / August 6, 2022 / 0 Comments
रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने नई दिल्ली प्रवास के दौरान आज नव निर्वाचित राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से सौजन्य मुलाक़ात की। इस दौरान मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने छत्तीसगढ़ में चलाई जा रही योजनाओं की जानकारी दी और...