हिंदू धर्म अपनाया तो घर को आग लगाई, बाल-बाल बचा पूरा परिवार

उत्‍तर प्रदेश के रायबरेली में एक परिवार ने मुस्लिम धर्म छोड़कर हिंदू धर्म अपना लिया। यह बात इस्‍लाम के कुछ ठेकेदारों को अच्‍छा नहीं लगा। उनलोगों ने एक साजिश के तहत हिंदू धर्म अपनाने वाले परिवार घर में सोते समय जिंदा जलाने की कोशिश की। पीड़ित परिवार ने घर के पीछे का दरवाजा किसी तरह तोड़कर अपनी और बच्चों की जान बचाई। पीडितों की शिकायत पर पुलिस ने ग्राम प्रधान ताहिर द्वारिका सिंह,  रेहान उर्फ सोनू,  अली अहमद,  इम्तियाज और मदरसे के एक व्यक्ति के खिलाफ नामजद मामला दर्ज किया है। पुलिस ने रात में ही आरोपितों के घर पर दबिश दी, लेकिन वे नहीं मिले।

जिले के अतागंज रतासो गांव निवासी देव प्रकाश पटेल ने अपने दो बेटों देवनाथ (5),  दीनदयाल (4) और बेटी दुर्गा देवी (3) के साथ दो सितंबर को मुस्लिम धर्म छोड़कर हिदू धर्म अपना लिया था। इसको लेकर गांव के ही कुछ लोग उनसे रंजिश पाले थे। शनिवार को देव प्रकाश बच्चों संग खाना खाने के बाद सो गए। रात करीब दो बजे उपद्रवियों ने देव प्रकाश के परिवार को जिंदा जलाने की नीयत से घर के मुख्य दरवाजे पर ताला लगा दिया, ताकि वे भाग न सकें। इसके बाद उसके घर के छप्पर में आग लगा दी। जब आग की लपटें उठीं तो देव प्रकाश की नींद टूटी। आगे का दरवाजा बाहर से बंद होने के कारण उन्होंने पीछे का दरवाजा किसी तरह तोड़ा और बच्चों को बचाकर बाहर निकाला, फिर पुलिस को सूचना दी। सूचना पर फायर ब्रिगेड आई और आग पर काबू पाया, लेकिन तब तक घर का सामान जल चुका था।

Read Also  कल्पना भी हो सकारात्मक

इस संबंध में सीओ राम किशोर सिंह ने कहा कि रतासो के प्रधान सहित पांच लोग नामजद हैं। आरोपितों को पकड़ने के लिए पुलिस दबिश दे रही है। जल्द ही उन्हें गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

Share The News

Get latest news on Whatsapp or Telegram.