आतंकी फंडिंग में दिल्ली अल्पसंख्यक आयोग के पूर्व प्रमुख के ठिकानों पर NIA ने की छापेमारी

जम्मू-कश्मीर में आतंकवाद और अलगाववाद को बढ़ावा देने तथा इसके वित्तपोषण मामले में राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने गुरुवार सुबह श्रीनगर और दिल्ली में अलग-अलग स्थानों पर छापेमारी की। इस छापेमारी में दिल्ली अल्पसंख्यक आयोग के पूर्व प्रमुख ज़फरुल-इस्लाम खान की संपत्ति भी शामिल है। इससे पहले बुधवार को भी एनआईए की टीम ने श्रीनगर और बडगाम में गैर-सरकारी संगठनों और ट्रस्टों के कुल 10 ठिकानों पर छापेमारी की थी।

गैर-सरकारी संगठनों और ट्रस्टों पर आरोप है कि चैरिटेबल गतिविधियों के नाम पर देश-विदेश से धन लेते हैं और उसका उपयोग जम्मू-कश्मीर में आतंकवाद और अलगाववाद को बढ़ावा देने और इनमें शामिल तत्‍वों को वित्तपोषण का काम करते हैं। इसी को लेकर बुधवार को भी बेंगलुरु के ठिकाने पर भी छापेमारी की गई थी।

अभी तक एनआईए की टीम ने जिन छह एनजीओ पर छापेमारी की है, उनमें चैरिटी अलायंस, जेके यतीम फाउंडेशन, फलह-ए-आम ट्रस्ट, ह्यूमन वेलफेयर फाउंडेशन, साल्वेशन मूवमेंट और J&K वॉइस ऑफ विक्टिम्स शामिल हैं। इनमें से चैरिटी अलायंस और ह्यूमन वेलफेयर फाउंडेशन दिल्ली में स्थित हैं, वहीं बाकी सभी जम्मू और कश्मीर के श्रीनगर से काम करते हैं।

Share The News
Read Also  कृषि कानून के खिलाफ इंडिया गेट के पास ट्रैक्टर में लगाई आग

Get latest news on Whatsapp or Telegram.