राष्ट्रपति बनने के पहले साल में ट्रंप ने भारत को दिया 750 डॉलर इनकम टैक्स

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के 20 साल से अधिक के आयकर भुगतान के विश्लेषण से पता चलता है कि उन्होंने 2016-17 में सिर्फ 750 डॉलर (लगभग 55,290 रुपये) का आयकर भुगतान किया था। ट्रंप और उनकी कंपनियों ने इस साल इससे कहीं अधिक 1,45,400 डॉलर (लगभग एक करोड़ सात लाख रुपये) का टैक्स भारत में भरा था। इसी साल ट्रंप की कंपनियों ने पनामा में 15,598 डॉलर (करीब 11,50,000 रुपये) और फिलीपींस में 156,824 डॉलर (करीब एक करोड़ 15 लाख रुपये) टैक्स के तौर पर जमा कराए थे। ये वही ट्रंप हैं, जिन्होंने 2016 के राष्ट्रपति चुनाव के दौरान खुद को अरबपति रियल एस्टेट कारोबारी और सफल व्यवसायी के तौर पर पेश किया था और कांटे की लड़ाई में राष्ट्रपति चुने गए थे।
यह जानकारी हैरान करने वाली है कि व्हाइट हाउस के अपने पहले साल में ट्रंप ने महज 750 डॉलर का आयकर भुगतान किया था। ट्रंप ने पिछले 15 सालों में से 10 साल कोई संघीय आयकर जमा नहीं कराया। इस अवधि में उन्होंने अपनी कमाई की तुलना में नुकसान अधिक दिखाया। ऐसा लगता है कि अमेरिका में कम टैक्स देने के लिए वित्तीय जानकारी देने में हेरा-फेरी की गई है।
राष्ट्रपति का कार्यभार संभालने के पहले दो वर्षों में ट्रंप को विदेशी व्यवसायों से 73 मिलियन डॉलर (लगभग 538 करोड़ रुपये) की कमाई हुई। इसका बड़ा हिस्सा स्कॉटलैंड और आयरलैंड में उनकी संपत्तियों,  फिलीपींस से तीन मिलियन डॉलर (करीब 22 करोड़ रुपये), भारत से 2.3 मिलियन डॉलर (लगभग 17 करोड़ रुपये) और तुर्की से एक मिलियन डॉलर (करीब 7 करोड़ रुपये) आया था।
अमेरिकी राष्ट्रपति के लिए निजी वित्तीय लेखा-जोखा देना अनिवार्य नहीं है। हालांकि, रिचर्ड निक्सन से लेकर अब तक के राष्ट्रपति अपना वित्तीय ब्योरा जारी करते रहे हैं। ट्रंप ने अपना आयकर ब्योरा देने से इन्कार करते हुए इस परंपरा को तोड़ दिया है। इसके लिए उन्हें लंबी कानूनी लड़ाई भी लड़नी पड़ी।
2016 के राष्ट्रपति चुनाव में भी ट्रंप के टैक्स रिटर्न का मुद्दा उठा था। उनके पूरे कार्यकाल के दौरान यह मुद्दा उठता रहा। अब जबकि वह दूसरी बार राष्ट्रपति का चुनाव लड़ रहे हैं तो आयकर भुगतान से जुड़ा मुद्दा फिर गरमा गया है।

Read Also  बंदरों पर कोरोना वैक्सीन का ट्रायल कामयाब, ऑक्सफोर्ड ने किया ये बड़ा दावा

ट्रंप ने कहा, ‘फेक न्यूज”
राष्ट्रपति ट्रंप ने इसे फेक न्यूज बताते हुए खारिज किया। उन्होंने कहा, ‘मैं टैक्स देता हूं। मेरे टैक्स रिटर्न में इसका विस्तृत ब्योरा है। मैंने टैक्स के रूप में काफी पैसा दिया है। जल्द ही आप सभी मेरा टैक्स रिटर्न देखेंगे। अभी इसकी ऑडिट हो रही है।”

Share The News

Get latest news on Whatsapp or Telegram.

   

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of