CBSE के नौवीं और 11वीं के फेल हुए छात्रों को मिलेगा एक और मौका

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) के स्कूलों में पढ़ने वाले 9वीं और 11वीं कक्षा के छात्र अगर परीक्षा में फेल हो गए हों तो उन्हें परीक्षा देने का एक और अवसर दिया जाएगा। केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री डॉ रमेश पोखरियाल निशंक ने गुरुवार को यहां ट्वीट कर यह जानकारी दी। उन्होंने अपनी इस ट्वीट के साथ सीबीएसई द्वारा जारी उस प्रेस विज्ञप्ति को भी पोस्ट किया है जिसमें बताया गया है कि नौवीं और 11वीं कक्षा के छात्रों को कोरोनो संकट को देखते हुए यह सुविधा इस साल दी जाएगी।

विज्ञप्ति में कहा गया है कि देशभर में कोरोना माहामरी का संकट चल रहा है और छात्र तथा अभिभावक बहुत ही तनावपूर्ण स्थितियों में गुजर रहे हैं। ऐसे में अभिभावकों की ओर से बोर्ड से इस तरह की मांग लगातार की जा रही है कि नौवीं और ग्यारहवीं कक्षा के जो छात्र अपने पेपर में फेल हो गए हो उन्हें एक परीक्षा देने का अवसर प्रदान किया जाए। सीबीएसई ने कहा है कि अभिभावकों की ओर से की जा रही लगातार मांगों को देखते हुए बोर्ड ने यह फैसला किया है कि अगर कोई छात्र नौवीं या 11वीं कक्षा की परीक्षा में फेल हो गया हो तो उसे एक बार ऑनलाइन या ऑफलाइन या किसी नवाचार तरीके से टेस्ट में बैठने की अनुमति दी जाए। बोर्ड ने कहा है कि चाहे स्कूल में परीक्षाएं हो गई हो या नहीं हुई हो छात्रों को यह अवसर एक बार जरूर दिया जाएगा। गौरतलब है कि कोरोना महामारी को देखते हुए सीबीएसई की आेर से पहले ही आठवीं कक्षा के छात्रों को बिना परीक्षा के पास करने का निर्णय हुआ था।

Share The News
Read Also  पुलिस पब्लिक स्कूल को मिली सीबीएसई की मान्यता, नर्सरी से 12वीं तक

Get latest news on Whatsapp or Telegram.

   

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of