खाइये पालक- मेथी और रहिए स्वस्थ 

क्या आप जानते हैं कि ठंड का मौसम में पालक और मेथी आपकी सेहत के लिए कितने फायदेमंद है। तो आईए जानते हैं इनके फायदे और अलग अलग स्वास्थ्य संबंधी परेशानी में इन्हें किस तरह उपयोग किया जाता है।

पालक एक ऐसी हरी भाजी है जो अपने गुणकारी असर के चलते सारे भारत में मशहूर है। पालक में विटामिन के अलावा प्रोटीन, सोडियम, कैल्शियम, फास्फोरस, क्लोरिन, थायामिन, फाइबर, राइबोफ्लैविन और लौह तत्व आदि पाए जाते हैं।

– हाइपोथायरॉइड होने पर एक प्याला पालक के रस के साथ एक चम्मच शहद और चौथाई चम्मच जीरे का चूर्ण मिलाकर सेवन करने से लाभ होता है।
– कोलाइटिस की समस्या हो, पालक और पत्तागोभी के पत्तों की समान मात्रा का रस तैयार कर कुछ दिनों तक लिया जाए तो आराम मिल जाता है।

– पालक के एक गिलास जूस में स्वादानुसार सेंधा नमक मिलाकर सेवन करने से दमा और श्वास रोगों में खूब लाभ मिलता है।

– पालक हृदय रोगियों के लिए खास माना जाता है। हृदय विकारों में प्रतिदिन एक कप पालक के जूस के साथ 2 चम्मच शहद मिलाकर लेना चाहिए, ये बड़ा गुणकारी होता है।

– पालक के जूस से कुल्ला करने की सलाह देते हैं, इनके अनुसार ऐसा करने से दाँतों की समस्याएं दूर हो जाते है। – एनिमिया या रक्त अल्पता की शिकायत हो उन्हें प्रतिदिन पालक का रस (लगभग एक गिलास) दिन में 3 तीन बार अवश्य लेना चाहिए।

– पीलिया के दौरान रोगी को पालक का रस कच्चे पपीते में मिलाकर दिया जाए तो अच्छा होता है. पीलिया होने पर रोगी को छिलके वाली मूंग की दाल में पालक डालकर तैयार की गयी सब्जी खिलाते है।

Read Also  पश्चिम बंगाल चुनाव में गूंजा सीएए का मुद्दा, कैलाश विजयवर्गीय बोले- जनवरी में होगा लागू

 

मेथी आयुर्वेद से लेकर मॉडर्न मेडिसिन साइंस ने मेथी के गुणों के बारे में खूब बखान किया है, इसकी पत्तियों की तरकारी औषधीय गुणों से भरपूर होती है। इसके बीजों में फॉस्फेट, लेसिथिन और न्यूक्लिओ-अलब्यूमिन होने से ये कॉड लिवर ऑयल जैसे पोषक और बल प्रदान करने वाले होते हैं। इसमें फोलिक एसिड, मैग्नीशियम, सोडियम, जिंक, कॉपर, नियासिन, थियामिन, कैरोटीन आदि पोषक तत्व पाए जाते हैं।

– मेथी पाचन शक्ति और भूख बढ़ाने में मदद करती है। न सिर्फ भाजी बल्कि इसके बीजों में भी भरपूर औषधीय गुण होते हैं।
– आधा चम्मच मेथी दाना को पानी के साथ निगलने से अपचन की समस्या दूर होती है।

– मेथी के बीज आर्थराइटिस और साईिटका के दर्द से निजात दिलाने में मदद करते हैं। इसके लिए एक ग्राम मेथी दाना पाउडर और सोंठ पाउडर को थोड़े से गर्म पानी के साथ दिन में दो-तीन बार लेने से लाभ होता है। इस रोग से दूर रहने के लिए प्रतिदिन 1 चम्मच मेथी दाना पाउडर पानी के साथ फांकें, इसके अलावा एक चम्मच मेथी दाना को एक कप पानी में भिगो कर रात भर के लिए छोड़ दीजिए, सुबह इसका पानी पिएं। इससे सीरम लिपिड लेवल कम होता है।

Share The News

Get latest news on Whatsapp or Telegram.